परशुराम की प्रतीक्षा – रामधारी सिंह दिनकर मुफ्त हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक | Parshuram ki Prateeksha By Ramdhari Singh Dinkar Free Hindi Book |

पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name परशुराम की प्रतीक्षा / Parshuram ki Prateeksha
Author
Category, ,
Language
Pages 82
Quality Good
Size 4 MB
Download Status Available

परशुराम की प्रतीक्षा पुस्तक का कुछ अंश : नेफा-युद्ध के प्रसंग मे भगवान परशुराम का नाम अत्यत समीचीन है। जब परशुराम पर मात हत्या का पाप चढा वे उससे मुक्ति पाने को सभी तीर्थो मे घूमते फिरे कितु कही भी परशु पर से उनकी वज्मृूठ नही खुली यानी उनके मन स से पाप का भान नही दूर हुआ। तब पिता ने उनसे कहा कि कैलास के समीप जो ब्रह्मकुण्ड है उसमे स्नान……….

Parshuram ki Prateeksha PDF Pustak in Hindi Ka Kuch Ansh : Nepha-Yuddh ke prasang me Bhagvan parashuram ka nam atyat samicheen hai. Jab parashuram par mat hatya ka pap chadha ve usase mukti pane ko sabhi teertho me ghoomate phire kitu kahi bhee parashu par se unakee vajmrooth nahi khulee yani unake man sa se pap ka bhan nahi door huya. Tab pita ne unase kaha ki kailas ke sameep jo brahmakund hai usame snan……….
Short Passage of Parshuram ki Prateeksha Hindi PDF Book : The name of Lord Parshuram is very appropriate in the context of Nefa war. When Parshuram was accused of the sin of killing his mother, he roamed around in all the pilgrimages to get rid of it, but nowhere did his Vajmruth open from Parshu, that is, the sense of sin did not go away from his mind. Then the father told him to bathe in the Brahmakund near Kailas………
“याद रखें कि भविष्य एक बार में एक दिन करके आता है।” – डीन ऐचिसन
“Always remember that the future comes one day at a time.” – Dean Acheson

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

5 thoughts on “परशुराम की प्रतीक्षा – रामधारी सिंह दिनकर मुफ्त हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक | Parshuram ki Prateeksha By Ramdhari Singh Dinkar Free Hindi Book |”

    • इस पुस्तक को डाउनलोड करने के लिए – यहाँ दबायें , पर क्लिक करें , उसके बाद जो अगला पेज खुलेगा उसमे गुलाबी बटन पर क्लिक करें | इस तरह आप पुस्तक डाउनलोड कर पाएंगे | धन्यवाद

      Reply

Leave a Comment