प्राणायाम से आधि-व्याधि निवारण : श्रीराम शर्मा द्वारा मुफ्त पीडीएफ हिंदी पुस्तक | : by Shri Ram Sharma Free Hindi PDF Book

Book Nameप्राणायाम से आधि-व्याधि निवारण / Pranayam Se Adhi-Vyadhi Nivarana
Author
Category,
Language
Pages 88
Quality Good
Size 3.5 MB
Download Status Available

प्राणायाम से आधि-व्याधि निवारण का संछिप्त विवरण :  होता है। यह प्रक्रिया शरीर को जीवित रखती है। अन्न जल के बिना कुछ समय पुजारा जारा हो सकता है, पर साँस के बिना तो दम घुटने से कुछ समय में ही जीवन का अंत हो जाता है। प्राण तत्त्त की महिमा जीवन धारण के लिए भी कम नहीं है…….

Pranayam Se Adhi-Vyadhi Nivarana PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Hota hai. Yah prakriya shareer ko jeevit rakhati hai. Ann jal ke bina kuchh samay pujara jara ho sakta hai, par sans ke bina to dam ghutane se kuchh samay mein hi jeevan ka ant ho jata hai. Pran tattt ki mahima jeevan dharan ke liye bhi kam nahin hai…….

Short Description of Pranayam Se Adhi-Vyadhi Nivarana PDF Book : it happens. This process keeps the body alive. Without food and water, a priest can live for some time, but without breath, life ends in a short time due to suffocation. The glory of Prana Tattva is not less even for holding life…….
“मुझे तो अतीत के इतिहास से कहीं अच्छे लगते हैं भविष्य के सपने।” ‐ टॉमस जैफ़रसन (१७४३-१८२६), तीसरे अमरीकी राष्ट्रपति
“I like the dreams of the future better than the history of the past.” ‐ Thomas Jefferson (April 13, 1743–July 4, 1826), Third President of America

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment