स्वाधीनता और उसके बाद : जवाहरलाल नेहरु द्वारा हिन्दी पीडीएफ़ पुस्तक | Swadhinta Aur Uske Baad : by Jawaharlal Nehru Hindi PDF Book

स्वाधीनता और उसके बाद : जवाहरलाल नेहरु द्वारा हिन्दी पीडीएफ़ पुस्तक | Swadhinta Aur Uske Baad : by Jawaharlal Nehru Hindi PDF Book
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name स्वाधीनता और उसके बाद / Swadhinta Aur Uske Baad
Author
Category, ,
Language
Pages 482
Quality Good
Size 28 MB
Download Status Available

स्वाधीनता और उसके बाद का संछिप्त विवरण : बहुत वर्ष हुए हमने भाग्य से एक सौदा किया था और अब अपनी प्रतिज्ञा पूरी करने का समय आया है पूरी तौर पर या जितनी चाहिए उतनी तो नहीं फिर भी काफी हद्द तक जब आधी रात के घंटे बजेंगे जबकि साडी दुनिया सोती होगी उस समय भारत जागकर जीवन और स्वतंत्रता प्राप्त करेंगा एक ऐसा क्षण आता है जो की इतिहास में……..

Swadhinta Aur Uske Baad PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : bahut varsh hue hamane bhaagy se ek sauda kiya tha aur ab apanee pratigya pooree karane ka samay aaya hai pooree taur par ya jitanee chaahie utanee to nahin phir bhee kaaphee hadd tak jab aadhee raat ke ghante bajenge jabaki saadee duniya sotee hogee us samay bhaarat jaagakar jeevan aur svatantrata praapt karenga ek aisa kshan aata hai jo kee itihaas mein………….
Short Description of Swadhinta Aur Uske Baad PDF Book : For many years we had done a deal with fate and now it has come to fulfill my pledge completely or not as much as what we need, but to a considerable extent, when it will be played in midnight, while Sadi lives the world, And gain freedom will come a moment in history…………..
“आप विवाह के समारोह का तो अभ्यास कर सकते है, लेकिन विवाह का नहीं।” अल बेट्ट
“You can rehearse a wedding but not a marriage.” Al Batt

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment