संस्कृत और हिंदी : हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – साहित्य | Sanskrit Aur Hindi : Hindi PDF Book – Literature (Sahitya)

Book Nameसंस्कृत और हिंदी / Sanskrit Aur Hindi
Category,
Language,
Pages 226
Quality Good
Size 27 MB
Download Status Available

संस्कृत और हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक का संछिप्त विवरण :  नाना कारणों से इस दश म॑ और बाहर यह बारबार विज्ञापित किया जाता है कि इस
महादेश में सैकड़ों भाषाएँ प्रचलित है और इसीलिए इसमें अखंडता या एकता की कल्पना नहीं की जा सकती।
मैंने विदेशी भाषाओँ के जानकारों और विदेश के नाना देशों में ,्रमण कर चुकने वाले कई ..

Sanskrit Aur Hindi PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Nana Karanon se is desh mein aur bahar yah barabar vigyapit kiya jata hai ki is mahadesh mein saikadon bhashaen prachalit hai aur iseeliye isamen akhandata ya ekata kee kalpana nahin kee ja sakatee. Mainne videshee bhashaon ke janakaron aur videsh ke nana deshon mein bhraman kar chukane vale kayi…………

 

Short Description of Sanskrit Aur Hindi Hindi PDF Book :  Due to various reasons, it is advertised repeatedly in and outside this country that hundreds of languages ​​are prevalent in this continent and hence it cannot be imagined integrity or unity. I have visited many foreign language experts and many foreign countries………….

 

“विवेक के मामलों में बहुमत के नियम का कोई स्थान नहीं है।” मोहनदास करमचंद गांधी (1869-1948)
“In matters of conscience the law of majority has no place.” Mohandas Karamchand Gandhi (1869-1948)

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment