श्रमण भगवान महावीर : पं० कल्याणविजयी गणी द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – आध्यात्मिक | Shraman Bhagwan Mahaveer : by Pt. Kalyan Vijayi Gani Hindi PDF Book – Spiritual (Adhyatmik)

श्रमण भगवान महावीर : पं० कल्याणविजयी गणी द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - आध्यात्मिक | Shraman Bhagwan Mahaveer : by Pt. Kalyan Vijayi Gani Hindi PDF Book - Spiritual (Adhyatmik)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name श्रमण भगवान महावीर / Shraman Bhagwan Mahaveer
Author
Category, , ,
Language
Pages 447
Quality Good
Size 17 MB
Download Status Available

पुस्तक का विवरण : हम ऊपर कह आये हैं कि सूत्र और चरित्र ग्रंथों में भगवान का केवल नहीं लिखा, इसलिए इस के लिखने और व्यवस्थित करने में हमें पर्याप्त श्रम उठाना पडा । इस भाग की हमने जिस ढंग परयोजना की है उसका ठीक स्वरूप तो ग्रन्थ के पढ़ने से ही ज्ञात होगा तथापि संक्षेप में आभास कराने के लिए हम उसका रेखाचित्र दिखाते हैं……..

Pustak Ka Vivaran : Ham Upar kah aaye hain ki Sootra aur charitra Granthon mein bhagvan ka keval nahin likha, Isaliye is ke likhane aur vyavasthit karane mein hamen paryapt shram uthana pada . Is bhag ki hamane jis dhang parayojana ki hai usaka theek svaroop to granth ke padhane se hee gyat hoga tathapi sankshep mein Aabhas karane ke liye ham usaka rekhachitra dikhate hain………

Description about eBook : We have been saying above that in the sutras and character texts God is not only written, so we had to take enough labor to write and organize it. The exact form of the manner in which we have planned this part will be known from the reading of the book, however, to give a brief appearance, we show the sketch of it…….

“मुझे यह पसंद है कि व्यक्ति िजस जगह रहे वहां रहने का उसे अभिमान हो। मुझे यह पसंद है कि व्यक्ति ऐसे रहे कि उसके रहने की जगह को उसका अभिमान हो।” अब्राहम लिंकन
“I like to see a man proud of the place in which he lives. I like to see a man live so that his place will be proud of him.” Abraham Lincoln

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment