श्रीरामसंवाद : महर्षि वाल्मीकि द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – धार्मिक | Shree Ram Sanvad : by Maharshi Valmiki Hindi PDF Book – Religious (Dharmik)

Book Nameश्रीरामसंवाद / Shree Ram Sanvad
Category, , , , ,
Language
Pages 96
Quality Good
Size 6 MB
Download Status Available

श्रीरामसंवाद का संछिप्त विवरण : इस प्राचीन पुस्तक के रचयिता रामायण के सुप्रसिद्ध लेखक ऋषि वाल्मीकि को माना गया है क्योंकि प्रत्येक अध्याय की समाप्ति पर ‘वाल्मीकि द्वारा रचित” इस वाक्य से होती है। ब्राह्मलिपि में लिखी गई इस पुस्तक को देवनागरी लिपि में परिवर्तिति कर अंग्रेजी अनुवाद सहित श्री देवेंद्र कमल जी ने प्रकाशित कराया….

Shree Ram Sanvad PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Is Pacheen pustak ke rachayita Ramayan ke suprasiddh lekhak rshi valmeeki ko mana gaya hai kyonki pratyek adhyay kee samapti par valmeeki dvara rachit is vaky se hoti hai. Brahmeelipi mein likhi gayi is pustak ko devanagaree lipi mein parivartiti kar angrejee anuvad sahit shree devendr kamal jee ne prakashit karaya…………
Short Description of Shree Ram Sanvad PDF Book : The author of this ancient book, the well-known author of Ramayana, Rishi Valmiki, has been considered because at the end of each chapter this sentence is “composed by Valmiki”. This book written in Brahmi script was converted into Devanagari script and published by Mr. Devendra Kamal with English translation………..
“प्रेरणा अंतर्मन से उत्पन्न होने वाली आग है। यदि आपके भीतर इस आग को जलाने का प्रयास किसी अन्य व्यक्ति द्वारा किया जाता है तो इस बात की संभावना है कि यह थोड़ी ही देर जलेगी।” स्टीफन आर. कोवे
“Motivation is a fire from within. If someone else tries to light that fire under you, chances are it will burn very briefly.” Stephen R. Covey

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment