श्रीकृष्ण चालीसा मुफ्त हिंदी पीडीएफ पुस्तक | Shri Krishna Chalisa Free Hindi PDF Book

पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name श्रीकृष्ण चालीसा / Shri Krishna Chalisa
Author
Category, ,
Language
Pages 2
Quality Good
Size 200 KB
Download Status Available

श्रीकृष्ण चालीसा पुस्तक का कुछ अंश : हिंदू धर्म के अनुसार श्री कृष्ण जी को भगवान विष्णु का अवतार माना जाता है। श्री कृष्ण को पूर्णावतार भी कहा जाता है क्योंकि उनके मृत्यु लोक के सभी चरणों को भोगा है। मान्यता है कि भक्ति-भाव से भगवान कृष्ण की पूजा करने से सफलता, सुख और शांति की प्राप्ति होती है। कृष्ण जी को मक्खन बहुत पसंद होता है। श्री कृष्ण वंदना के लिए लोग “हरे कृष्णा हरे कृष्णा” का जाप करते हैं। साथ ही कृष्ण जी की पूजा में उनकी चालीसा को भी बेहद महत्त्वपूर्ण माना जाता है………….

Shri Krishna Chalisa PDF Pustak Ka Kuch Ansh : Hindu Dharm ke Anusar Shri krishn ji ko Bhagwan vishnu ka avatar mana jata hai. Shri Krishn ko poornavatar bhi kaha jata hai kyonki unke mrtyu lok ke sabhi charanon ko bhoga hai. Manyata hai ki bhakti-bhav se bhagvan krishn ki pooja karne se saphalata, sukh aur shanti ki prapti hoti hai. Krishn jee ko makkhan bahut pasand hota hai. Shri krishn vandana ke liye log “Hare krishna hare krshna” ka jap karte hain. Sath hi krishn ji ki pooja mein unaki chalisa ko bhi behad Mahattvapurn mana jata hai………….
Short Passage of Shri Krishna Chalisa PDF Book : According to Hindu religion, Shri Krishna is considered an incarnation of Lord Vishnu. Shri Krishna is also called Purnavatar because he has experienced all the phases of the mortal world. It is believed that worshiping Lord Krishna with devotion brings success, happiness and peace. Krishna ji likes butter very much. People chant “Hare Krishna Hare Krishna” to worship Shri Krishna. Along with this, his Chalisa is also considered very important in the worship of Krishna……….
“आशावादी होने में क्या कष्ट है? रो तो कभी भी सकते हैं।” -लूसिमार सांतोस द लीमा
“It doesn’t hurt to be optimistic. You can always cry later.” – Lucimar Santos de Lima

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment