सिंह और कुत्ता : लेव तोलस्तोय द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – कहानी | Singh Aur Kutta : by Leo Tolstoy Hindi PDF Book – Story (Kahani)

सिंह और कुत्ता : लेव तोलस्तोय द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - कहानी | Singh Aur Kutta : by Leo Tolstoy Hindi PDF Book - Story (Kahani)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name सिंह और कुत्ता / Singh Aur Kutta
Author
Category, , , ,
Language
Pages 16
Quality Good
Size 4.7 MB
Download Status Available

सिंह और कुत्ता का संछिप्त विवरण : सिंह दिन भर पिंजरे में छठपटाता और गरजता-तड़पता रहा। फिर वह मृत कुत्ते के पास जाकर पड़ रहा और चुप हो गया। मालिक ने मरे हुए कुत्ते को वहां से हटाना चाहा, मगर सिंह ने किसी को उसके पास भी फटकने नहीं दिया। मालिक ने सोचा कि अगर सिंह को दूसरा कुत्ता दे दिया जाये तो वह अपना दुःख भूल जायेगा। उसने एक ज़िन्दा कुत्ता पिंजरे में छोड़ दिया…….

Singh Aur Kutta PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Singh Din bhar Pinjare mein Chhathapatata aur Garajata-tadapata raha. Phir vah mrt kutte ke pas jakar pad raha aur chup ho gaya. Malik ne mare huye kutte ko vahan se hatana chaha, magar sinh ne kisi ko uske pas bhi phatakane nahin diya. Malik ne socha ki agar singh ko doosara kutta de diya jaye to vah apana duhkh bhool jayega. Usne ek zinda kutta pinjare mein chhod diya………
Short Description of Singh Aur Kutta PDF Book : The lion roared and roared in the cage all day long. Then he went to the dead dog and fell silent. The owner wanted to remove the dead dog from there, but Singh did not allow anyone to beat him. The owner thought that if the lion was given another dog, he would forget his sorrow. He left a live dog in the cage……..
“धन क्या है? एक व्यक्ति कामयाब तब है जब वह सुबह उठने और रात को सोने के बीच वह करता है जो वह करना चाहता है।” बॉब डिलन
“What’s money? A man is a success if he gets up in the morning and goes to bed at night and in between does what he wants to do.” Bob Dylan

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment