स्वतंत्रता संग्राम का इतिहास 1857 से 1947 तक : गोवर्धनलाल पुरोहित द्वारा हिन्दी पीडीएफ़ पुस्तक | Swatantrata Sangram Ka Itihas 1857 Se 1947 Tak : by Govardhanalal Purohit Hindi PDF Book

स्वतंत्रता संग्राम का इतिहास 1857 से 1947 तक : गोवर्धनलाल पुरोहित द्वारा हिन्दी पीडीएफ़ पुस्तक | Swatantrata Sangram Ka Itihas 1857 Se 1947 Tak : by Govardhanalal Purohit Hindi PDF Book
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name स्वतंत्रता संग्राम का इतिहास 1857 से 1947 तक / Swatantrata Sangram Ka Itihas 1857 Se 1947 Tak
Author
Category, ,
Pages 444
Quality Good
Size 33.78 MB
Download Status Available

स्वतंत्रता संग्राम का इतिहास 1857 से 1947 तक का संछिप्त विवरण : भारत के स्वतन्त्रता संग्राम पर अब तक छोटी बड़ी अनेक पुस्तकें प्रकाशित हो चुकी हैं, परन्तु 857 से लेकर 947 ई. तक के स्वतन्त्रता संग्राम पर एकीकृत पुस्तक अभी देखने में नहीं आयी। अत: दिल्‍ली प्रशासन ने इस कमी को पूरा करने के लिये स्वतन्त्रता संग्राम पर सांगोषांग पुस्तक लिखने के लिए देश के लेखकों को प्रेरित किया, परिणामस्वरूप प्रस्तुत पुस्तक इसी सन्दर्भ में लिखी गई है……..

Swatantrata Sangram Ka Itihas 1857 Se 1947 Tak PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Bharat ke svatantrata sangram par ab tak chhoti badi anek pustaken prakashit ho chuki hain, parantu 1857 se lekar 1947 tak ke svatantrata sangraam par ekikrt pustak abhi dekhane mein nahin ayi. Atah Dilli prashasan ne is kami ko poora karane ke liye svatantrata sangram par sangopang pustak likhane ke lie desh ke lekhakon ko prerit kiya, parinamasvaroop prastut pustak isi sandarbh mein likhi gai hai………….
Short Description of Swatantrata Sangram Ka Itihas 1857 Se 1947 Tak PDF Book : So far, many big books have been published on the freedom struggle of India, but the unified book on the freedom struggle from 1857 to 1947 AD has not yet been seen. Therefore, the Delhi administration has inspired the writers of the country to write a book on freedom struggle to fulfill this shortcoming, as a result the book presented has been written in this context……………
“जागें, उठें और न रुकें जब तक लक्ष्य तक न पहुंच जाएं।” ‐ स्वामी विवेकानंद
“Arise, Awake and Stop not till the goal is reached.” ‐ Swami Vivekananda

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment