वीर हरिसिंह नलवा : अशोक कौशिक द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – जीवनी | Veer Hari Singh Nalva : by Ashok Kaushik Hindi PDF Book – Biography (Jeevani)

वीर हरिसिंह नलवा : अशोक कौशिक द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - जीवनी | Veer Hari Singh Nalva : by Ashok Kaushik Hindi PDF Book - Biography (Jeevani)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name वीर हरिसिंह नलवा / Veer Hari Singh Nalva
Author
Category, , , ,
Language
Pages 80
Quality Good
Size 11.3 MB
Download Status Available

वीर हरिसिंह नलवा का संछिप्त विवरण : वीर हरिसिंह नलवा पंजाब की भूमि आरम्भ से ही वीर पुरुषों की भूमि रही है। एक हज़ार साल तक निरन्तर उत्तर से आने वाले प्रत्येक आक्रमणकारी का पंजाब ने मुँहतोड़ उत्तर दिया है। भारतीय इतिहास का एक ऐसा ही विजय प्रतीक है सेनापति हरिसिंह नलवा। वह ऐसा प्रतापी पुरुष था कि जिसके नाम के डंके आज भी अफगानिस्तान में बजते हैं…….

Veer Hari Singh Nalva PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Veer Hari Singh Nalava Punjab ki bhoomi aarambh se hi veer purushon ki bhoomi rahi hai. Ek hazar sal tak nirantar uttar se aane vale pratyek aakramanakari ka Punjab ne munhatod uttar diya hai. Bharatiya itihas ka ek aisa hi vijay prateek hai senapati harisinh nalava. Vah aisa pratapi purush tha ki jiske nam ke danke aaj bhi Afghanistan mein bajate hain…….
Short Description of Veer Hari Singh Nalva PDF Book : The land of Veer Harisingh Nalwa Punjab has been the land of brave men from the very beginning. Punjab has given a befitting reply to every invader coming from the north continuously for a thousand years. One such victory symbol of Indian history is Senapati Harisingh Nalwa. He was such a majestic man that his name still rings in Afghanistan……
“प्रार्थनाः दिन की कुंजी तथा रात का ताला होती है।” ‐ थॉमस फुल्लर
“Prayer: Key of the Day, Lock of the Night” ‐ Thomas Fuller

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment