वाइरस और कैंसर की कहानी : कृष्णानंद दुबे | Virus Aur Cancer Ki Kahani : by Krishnanand Dubey Hindi PDF Book

पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name वाइरस और कैंसर की कहानी / Virus Aur Cancer Ki Kahani
Author
Category, ,
Language
Pages 107
Quality Good
Size 10 MB
Download Status Available

वाइरस और कैंसर की कहानी का संछिप्त विवरण : का संछिप्त विवरण : यह कल्पना करना कठिन है कि जीव ऐसे एन्जाइमों की सहायता से किसी भी विष का सामना कर सकते हैं जो इसी उद्देश्य को ध्यान में रख कर बनाये गये हों । जीवरसायन के विकास में एक ऐसा समय था जब जानवरों को सैकड़ों कार्बनिक यौगिक खिलाये गये ताकि शरीर में उन पर जो प्रतिक्रिया होती है उसका अध्ययन किया जा सके | इनमें से बहुत से पदार्थ ऐसे थे जिन्हें उत्साही………

Virus Aur Cancer Ki Kahani PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Yah Kalpana karna kathin hai ki jeev aise Enjaimon ki sahayata se kisi bhi vish ka samana kar sakte hain jo isi uddeshy ko dhyan mein rakh kar banaye gaye hon. Jeevarasayan ke vikas mein ek aisa samay tha jab janavaron ko saikadon karbanik yaugik khilaye gaye taki shareer mein un par jo pratikriya hoti hai usaka adhyayan kiya ja sake. Inamen se bahut se padarth aise the jinhen utsahi………
Short Description of Virus Aur Cancer Ki Kahani PDF Book : It is difficult to imagine that living beings can cope with any poison with the help of enzymes that are designed with this purpose in mind. There was a time in the development of biochemistry when hundreds of organic compounds were fed to animals so that the body’s reaction to them could be studied. Many of these substances were such that they were enthusiastically …………
“विचारशील व्यक्ति को हर जगह सम्मान मिलता है।” – सोफोक्लेस
“Wise thinkers prevail everywhere.” – Sophocles

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment