आज के सन्दर्भ में समन्वित योग : स्वामी ज्योतिर्मयानंद द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – सामाजिक | Aaj Ke Sandarbh Mein Samanvit Yoga : by Swami Jyotirmayanand Hindi PDF Book – Social (Samajik)

Book Nameआज के सन्दर्भ में समन्वित योग / Aaj Ke Sandarbh Mein Samanvit Yoga
Author
Category, ,
Language
Pages 106
Quality Good
Size 11 MB
Download Status Available

आज के सन्दर्भ में समन्वित योग का संछिप्त विवरण : अनुवाद करने के पीछे मूल भावना तो स्वांतः सुखाय ही रही है । यदि हमारे स्वयं की इस सुखानुभूति से दूसरों को भी कुछ प्राप्त हो जाय तो इससे हमें अत्यन्त प्रसन्‍नता होगी। व्यक्तिगत रूप से न तो लेखन का कोई अभ्यास है और न ही कोई साहित्यिक विद्वता। इसलिये इस अनुवाद में यत्र तत्र सर्वत्र कुछ न कुछ त्रुटियाँ होगी हीं। अपने विद्वान…

Aaj Ke Sandarbh Mein Samanvit Yoga PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Anuvad karane ke peechhe mool bhavana to svantah sukhay hi rahi hai . Yadi hamare svayan ki is sukhanubhuti se doosaron ko bhi kuchh prapt ho jay to isase hamen atyant prasan‍nata hogi. Vyaktigat roop se na to lekhan ka koi abhyas hai aur na hi koi sahityik vidvata. Isaliye is anuvad mein yatra tatr sarvatra kuchh na kuchh trutiyan hogi heen. Apane vidvan……..
Short Description of Aaj Ke Sandarbh Mein Samanvit Yoga PDF Book : The original feeling behind doing the translation has been self-evident. If others get something from this happiness of our own, then it will make us very happy. There is neither any writing practice nor literary scholarship in person. Therefore, in this translation, there will be some errors everywhere. Your scholar ……..
“मैं अपने जीवन को एक पेशा नहीं मानता। मैं कर्म में विश्वास रखता हूं। मैं परिस्थितियों से शिक्षा लेता हूं। यह पेशा या नौकरी नहीं है – यह तो जीवन का सार है। ” – स्टीव जॉब्स, संस्थापक, एप्पल
“I don’t think of my life as a career. I do stuff. I respond to stuff. That’s not a career — it’s a life!” – Steve Jobs, Founder, Apple

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment