आस्तिकवाद : पं० गंगाप्रसाद उपाध्याय द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – धार्मिक | Aastikvad : by Pt. Gangaprasad Upadhyay Hindi PDF Book – Religious ( Dharmik )

आस्तिकवाद : पं० गंगाप्रसाद उपाध्याय द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - धार्मिक | Aastikvad : by Pt. Gangaprasad Upadhyay Hindi PDF Book - Religious ( Dharmik )
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name आस्तिकवाद / Aastikvad
Author
Category,
Language
Pages 479
Quality Good
Size 45 MB
Download Status Available

आस्तिकवाद पुस्तक का कुछ अंश : कुछ दिन पहले, शिक्षित जगत के नाम से जो समुदाय प्रसिद्द था, उसने यह फैशन सा बना रक्खा था कि ईश्वर और धर्म दोनों का वहिष्कार करना चाहिए | उनकी समझ में इस कारण यह था कि ईश्वर के मानने से व्यर्थ मनुष्य को बन्धन में पड़ना पड़ता है, और धर्म लड़ाई झगड़े की चीज है ही, इसलिये धर्मका ग्राहक बनना माना लड़ाई झगड़े का खरीद करना है…….

Aastikvad PDF Pustak in Hindi Ka Kuch Ansh : Kuchh din pahle, shikshit jagat ke naam se jo samuday prasidd tha, usne yah phaishan sa bana rakkha tha ki Ishvar aur dharm donon ka vahishkar karna chahie. Unki samajh mein is karan yah tha ki Ishvar ke manane se vyarth manushy ko bandhan mein padna padta hai, aur dharm ladai jhagade ki chij hai hi, isliye dharm ka grahak banna mana ladai jhagde ka kharid karna hai…………
Short Passage of Aastikvad Hindi PDF Book : A few days ago, the community which was known in the name of the educated world made it fashionable that both God and religion should be blessed. For this reason, because of their understanding, it is a man who is in vain to believe in God, and religion is the only thing to fight, that is to become a customer of religion, it is to purchase a battle dispute……………
“जन्म देने वाले माता पिता से अध्यापक कहीं अधिक सम्मान के पात्र हैं, क्योंकि माता पिता तो केवल जन्म देते हैं, लेकिन अध्यापक उन्हें शिक्षित बनाते हैं, माता पिता तो केवल जीवन प्रदान करते हैं, जबकि अध्यापक उनके लिए बेहतर जीवन को सुनिश्चित करते हैं।” ‐ अरस्तू
“Teachers, who educate children, deserve more honour than parents, who merely gave them birth; for the latter provided mere life, while the former ensure a good life.” ‐ Aristotle

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment