भारत की राजव्यवस्था : एम० लक्ष्मीकांत द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – सामाजिक | Bharat Ki Rajvyavastha : by M. Laxmikant Hindi PDF Book – Social (Samajik)

Book Nameभारत की राजव्यवस्था / Bharat Ki Rajvyavastha
Author
Category,
Language
Pages 903
Quality Good
Size 10.7 MB
Download Status Not Available
पुस्तक का डाउनलोड लिंक नीचे हरी पट्टी पर दिया गया है|

भारत की राजव्यवस्था का संछिप्त विवरण : इस अधिनियम का अत्यधिक संवैधनिक महत्व है, यथा : (अ) भारत में ईस्ट इंडिया कंपनी के कार्यों को नियमित और नियंत्रित करने की दिशा में ब्रिटिश सरकार द्वारा उठाया गया यह पहला कदम था, (ब) इसके द्वारा पहली बार कंपनी के प्रशासनिक और राजनैतिक कार्यों को मान्यता मिली, एवं; (स) इसके द्वारा भारत………

Bharat Ki Rajvyavastha PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Is Adhiniyam ka atyadhik sanvaidhanik mahatv hai, yatha : (a) Bharat mein east indiya Company ke karyon ko niyamit aur niyantrit karane kei disha mein british sarkar dvara uthaya gaya yah pahala kadam tha, (b) Isake dvara pahali bar Campany ke prashasanik aur Rajnaitik karyon ko manyata mili, evan; (sa) isake dvara bharat……….
Short Description of Bharat Ki Rajvyavastha PDF Book : The Act has highly statutory significance, such as: (a) It was the first step taken by the British Government towards regularizing and controlling the affairs of the East India Company in India, (b) It was for the first time the company’s administrative and political The works were recognized, and; (C) India by ………
“मनुष्य ही एकमात्र ऐसा प्राणी है जिसे हंसने का गुण प्रदान किया गया है।” ‐ ग्रेविल्ले
“Man is the only creature endowed with the power of laughter.” ‐ Greville

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment