दवा : डॉ. पुनत्तिल कुंजब्दुल्ला द्वारा मुफ्त हिंदी पीडीऍफ पुस्तक | Davaa : by Dr. Punattil Kunjabdulla Free Hindi PDF Book

Book Nameदवा / Dava
Author
Category,
Language
Pages 254
Quality Good
Size 11.2 MB
Download Status Available

पुस्तक का विवरण : तीनों तरफ कांच की दीवारों से घिरे ड्यूटी-रूम में नर्स और हाउस-सर्जन अपने काम में बहुत व्यस्त हैं| मैट्रेन हेलन सिंह बड़ी खूबसूरत और चुस्त हैं| अवस्था चालीस वर्ष के करीब है| उनकी मोहक आँखों में पूरा अस्पताल झलक रहा है| हल्की लिपिस्टिक लगे होठों पर मुस्कुराहट लुका-छिपी खेल रही है| जिस रास्ते से वह जाती है उसमें बेला की खुशबू महकती है………….

Pustak Ka Vivaran : Teenon taraph kanch ki Deevaron se ghire dyooti-room mein nars aur haus-sarjan apane kam mein bahut vyast hain. Maitren helan sinh badi khoobasoorat aur chust hain. Avastha chalees varsh ke karib hai. Unki mohak Aankhon mein poora aspatal jhalak raha hai. Halki lipistik lage hothon par Muskurahat luka-chhipi khel rahi hai. Jis raste se vah jati hai usamen bela ki khushaboo mahakati hai………….

Description about eBook : The nurses and the house-surgeons are very busy with their work in the duty-room surrounded by glass walls on all three sides. Matren Helen Singh is very beautiful and agile. The age is close to forty years. The whole hospital is visible in his charming eyes. A smile is playing hide-and-seek on her lips smeared with light lipstick. Bella’s fragrance smells in the way she goes……

“व्यक्ति कर्मों से महान बनता है, जन्म से नहीं।” ‐ चाणक्य
“A man is great by deeds, not by birth.” ‐ Chanakya

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment