हाँ, यही सच है : दलबारा सिंह द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – उपन्यास | Han, Yahi Sach Hai : by Dalbara Singh Hindi PDF Book – Novel (Upanyas)

हाँ, यही सच है : दलबारा सिंह द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - उपन्यास | Han, Yahi Sach Hai : by Dalbara Singh Hindi PDF Book - Novel (Upanyas)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name हाँ, यही सच है / Han, Yahi Sach Hai
Author
Category, , , ,
Language
Pages 104
Quality Good
Size 4 MB
Download Status Available

पुस्तक का विवरण : “छोडो जी आप बेटी को वकील बाबाओगे तो दामाद जज ढूढना पड़ेगा जज। वैसे ही रिश्ते नहीं मिलते-वकील बेटी का रिश्ता करना कठिन काम हो जायेगा। मैं तो हूँ कि बेटी नीलम इस वर्ष सी. बी. एस. ई. पास कर जाए यही अच्छा है। इससे आगे पढ़ाना ठीक नहीं है। हमने कौन-सी बेटी की कमाई खानी है। आप तो………..

Pustak Ka Vivaran : Chhodo jee Aap Beti ko Vakeel Babaoge to Damad jaj dhoodhana padega jaj. Vaise hee Rishte nahin milate-vakeel beti ka rishta karana kathin kam ho jayega. Main to hoon ki Beti Neelam is varsh C.B.S.E. Pas kar jaye yahi Achchha hai. Isase Aage padhana theek nahin hai. Hamane kaun-see Beti kee kamai khani hai. Aap to……….

Description about eBook : “Leave it to your daughter, if you have a lawyer, you will have to find a son-in-law judge.” The relationship does not get the same way – it will become difficult for the lawyer daughter to have a relationship. I am that daughter, Neelam, this year, B.B. s. E. pass it, it is good. It is not right to teach beyond this. Which daughter have we earned? You are……….

“जब तक आप न चाहें तब तक आपको कोई भी ईर्ष्यालु, क्रोधी, प्रतिशोधी, या लालची नहीं बना सकता है।” नेपोलियन हिल
“No one can make you jealous, angry, vengeful, or greedy–unless you let him.” Napoleon Hill

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment