जंगली घोड़ा : हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – बच्चों की पुस्तक | Jangali Ghoda : Hindi PDF Book – Children’s Book (Bachchon Ki Pustak)

Book Nameजंगली घोड़ा / Jangali Ghoda
Author
Category, , ,
Language
Pages 63
Quality Good
Size 2.5 MB
Download Status Available

जंगली घोड़ा का संछिप्त विवरण : वह बहुत तेज दौड़ा, वो दौड़ता ही रहा। रस्सी लिए आदमियों ने दबंग को देखा। वाह ! उन्होंने कहा। “क्या तुम अब भी हमारे साथ आना चाहोगे ? उन लोगों ने दबंग से पूछा। ‘हाँ'” दबंग ने उनसे कहा। फिर वे लोग दबंग को एक साफ सुथरे अस्तबल में ले गए। दबंग के बाकी दोस्त भी वहां पर थे……

Jangali Ghoda PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Vah Bahut Tej Dauda, vo Daudata hi raha. Rassi liye Aadamiyon ne dabang ko dekha. Vah ! Unhonne kaha. Kya tum ab bhi hamare sath aana chahoge ? Un logon ne dabang se poochha. Han Dabang ne unse kaha. Phir ve log dabang ko ek saph suthare Astabal mein le gaye. Dabang ke baki dost bhi vahan par the………
Short Description of Jangali Ghoda PDF Book : He ran very fast, he kept running. The men with the rope saw Dabang. Wow ! They said. “Would you still like to come with us? They asked Dabangg. ‘Yes’ Dabangg told him. Then they took Dabang to a clean stable. The rest of Dabang’s friends were also there……..
“जब आप जागृत अवस्था में होते हैं, तो ही सर्वश्रेष्ठ स्वप्नों का सृजन होता है।” ‐ चैरी ग्लाइडरब्लूम
“The best dreams happen when you’re awake.” ‐ Cherie Gilderbloom

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment