सभी मित्र, हस्तमैथुन के ऊपर इस जरूरी विडियो को देखे और नाम जप की शक्ति को अपने जीवन का जरुरी हिस्सा बनाये
वीडियो देखें

हिंदी संस्कृत मराठी ब्लॉग

महाभारत कथा भाग – १ / Mahabharat Katha Part -1

महाभारत कथा भाग - १ : श्री चक्रवर्ती राजगोपालाचर्या द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - इतिहास | Mahabharat Katha Part -1 : by Shri Chakravarti Rajgopalacharya Hindi PDF Book - History (Itihas)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name महाभारत कथा भाग – १ / Mahabharat Katha Part -1
Author
Category,
Language
Pages 276
Quality Good
Size 14 MB
Download Status Available

सभी मित्र हस्तमैथुन के ऊपर इस जरूरी विडियो को देखे, ज्यादा से ज्यादा ग्रुप में शेयर करें| भगवान नाम जप की शक्ति को पहचान कर उसे अपने जीवन का जरुरी हिस्सा बनाये|

पुस्तक का विवरण : प्राचीन काल में बच्चों को पुराणों की कहानियां दादियाँ सुनाया करती है ; लेकिन अब तो बेटे-पोते वाली महिलाओं को भी ये कहानियां ज्ञात नहीं है | इसलिए अगर इन कहानियों को पुस्तकों के रूप में प्रकाशित किया जाये तो उससे भारतीय परिवारों को लाभ ही होगा | महाभारत की इन कथाओं के केवल एक बार पढ़ लेने से ही काम न चलेगा…

Pustak Ka Vivaran : Prachin kaal mein bachchon ko puraon ki kahaniyan dadiyan sunaya karti hai ; lekin ab to bete-pote vali mahilaon ko bhi ye kahaniyan gyat nahin hai. Islie agar in kahaniyon ko pustakon ke rup mein prakashit kiya jaye to usse bharatiy parivaron ko labh hi hoga. Mahabharat ki in kathaon ke keval ek baar padh lene se hi kaam na chalega…………

Description about eBook : In ancient times, the children recite the stories of the Puranas; But now even the sons and grandmothers do not even know these stories. So if these stories are published in books, then it will benefit Indian families. Only once reading these stories of Mahabharata will not work…………….

“अज्ञानता और विचारहीनता मानवता के विनाश के दो सबसे बड़े कारण हैं।” ‐ जॉन टिलोटसन
“Ignorance and inconsideration are the two great causes of the ruin of mankind.” ‐ John Tillotson

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Leave a Comment