मुझे बनना है यू. पी. एस. सी. टॉपर : निशान्त जैन द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – सामाजिक | Mujhe Banana Hai U.P.S.C Topper : by Nishant Jain Hindi PDF Book – Social (Samajik)

Book Nameमुझे बनना है यू. पी. एस. सी. टॉपर / Mujhe Banana Hai U.P.S.C Topper
Author
Category, , ,
Language
Pages 213
Quality Good
Size 59 MB
Download Status Available

पुस्तक का विवरण : मैंने उनके विचार पढ़े, खासकर उनकी ‘देने की ख़ुशी’सोच के बारे में और उनके व्यक्तित्व को और अच्छे से माना है कि जो लोग अच्छाइयों के लिए बने है उनको बहुत जिम्मेदार से जीना है। यही वजह है कि आई. ए. एस परीक्षा उच्च स्थान पाने के बाद भी उन्होने अपने दायित्व बोध को समझा और अपने सारे ज्ञान, समझ………

Pustak Ka Vivaran : Mainne unake vichar padhe, khasakar unakee dene kee khusheesoch ke bare mein aur unake vyaktitv ko aur achchhe se mana hai ki jo log achchhaiyon ke liye bane hai unako bahut jimmedar se jeena hai. Yahi vajah hai ki aayi. E. S Pariksha uchch sthan pane ke bad bhee unhone apane dayitv bodh ko samajha aur apane sare gyan, samajh…………

Description about eBook : I read his thoughts, especially about his ‘pleasure of giving’ thinking and have considered his personality better that those who are made for good have to live very responsibly. This is the reason why I.A. Even after gaining the exam, he understood his sense of responsibility and all his knowledge, understanding………..

“हमारी नित्य की दिनचर्या में हम भूल जाते हैं कि हमारा जीवन तो एक अविरत अद्भुत अनुभव है।” ‐ माया एंजेलू
“Because of our routines we forget that our life is an adventure.” ‐ Maya Angelou

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment