प्राणायाम से आधि-व्याधि निवारण : ब्रह्मवर्चस द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – योग | Pranayam Se Aadhi – Vyadhi Nivaran : by Brahmavarchas Hindi PDF Book – Yoga

प्राणायाम से आधि-व्याधि निवारण : ब्रह्मवर्चस द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - योग | Pranayam Se Aadhi - Vyadhi Nivaran : by Brahmavarchas Hindi PDF Book - Yoga
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name प्राणायाम से आधि-व्याधि निवारण / Pranayam Se Aadhi – Vyadhi Nivaran
Author
Category, , ,
Language
Pages 88
Quality Good
Size 3.8 MB
Download Status Available

प्राणायाम से आधि-व्याधि निवारण का संछिप्त विवरण : प्राणायाम शब्द के दो खंड है – एक ‘प्राण’ दूसरा ‘आयाम’ है। प्राण का मोटा अर्थ है- जीवन तत्व और आयाम का अर्थ है-विस्तार। प्राण शब्द के साथ प्राण वायु जोड़ा जाता है। तब उसका अर्थ नाक द्वारा साँस लेकर फेफड़ों में फैलाना तथा उसके ऑक्सीजन अंश को रक्त के माध्यम से समस्त शरीर में पहुँचाना भी होता है। यह प्रक्रिया शरीर को जीवत रखती……..

Pranayam Se Aadhi – Vyadhi Nivaran PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Pranayam Shabd ke do khand hai – Ek Pran doosara Aayam hai. Pran ka mota arth hai-jeevan Tatv aur Aayam ka arth hai-vistar. Pran shabd ke sath pran vayu joda jata hai. Tab usaka arth nak dvara sans lekar phephadon mein Failana tatha usake oxygen ansh ko rakt ke madhyam se samast shareer mein pahunchana bhi hota hai. Yah Prakriya shareer ko jeevat Rakhati hai………
Short Description of Pranayam Se Aadhi – Vyadhi Nivaran PDF Book : The word pranayama has two sections – one is ‘prana’ and the other is ‘dimension’. Prana means thick – the element of life and dimension means – expansion. Prana vayu is associated with the word prana. Then it means to breathe through the nose and spread it to the lungs and also to carry its oxygen fraction to the whole body through blood. This process keeps the body alive ………..
“यदि आप ग़ुस्से के एक क्षण में धैर्य रखते हैं, तो आप दुःख के सौ दिन से बच जाएंगे।” ‐ चीनी कहावत
“If you are patient in one moment of anger, you will escape a hundred days of sorrow.” ‐ Chinese Proverb

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment