रहस्य में प्रवेश : ओशो द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – सामाजिक | Rahasya Mein Pravesh : by Osho Hindi PDF Book – Social (Samajik)

Book Nameरहस्य में प्रवेश / Rahasya Mein Pravesh
Author
Category, , ,
Language
Pages 166
Quality Good
Size 43.6 MB

पुस्तक का विवरण : जब मैं कहता हूं कि विज्ञान जीवन को एक पहेली की तरह देखता है, जिसे सुलझाया जा सकता है, तो पूरा दृष्टिकोण बौद्धिक हो जाता है। फिर उसमें बुद्धि समाविष्ट होती है, तुम नहीं। तुम उससे बाहर रह जाते हो। मन ही व्याख्या करता है, मन ही सब संभालता है; मन ही निरीक्षण, विश्लेषण करता है। मन विवाद करता है, संदेह उठाता है, प्रयोग करता है, पर तुम्हारी समग्रता इससे बाहर ही रहती है…………

Pustak Ka Vivaran : Jab main Kahata hoon ki vigyan Jeevan ko ek paheli kee tarah dekhata hai, jise sulajhaya ja sakata hai, To poora drshtikon bauddhik ho jata hai. Phir usamen buddhi samavisht hoti hai, Tum nahin. Tum usase bahar rah jate ho. Man hi vyakhya karata hai, man hi sab Sambhalata hai; man hee Nirikshan, vishleshan karata hai. Man vivad karata hai, sandeh uthata hai, prayog karata hai, par Tumhari samagrata isase bahar hee rahati hai……….

Description about eBook : When I say that science views life as a puzzle that can be solved, the whole point of view becomes intellectual. Then it contains intelligence, not you. You stay out of it. The mind explains, the mind handles everything; The mind itself inspects, analyzes. The mind disputes, raises doubts, uses, but your totality remains out of it …………

“सौंदर्य शक्ति है; और मुस्कान उसकी तलवार है।” ‐ जॉन रे
“Beauty is power; a smile is it’s sword.” ‐ John Ray

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment