श्रीनेत्रतन्त्रम : आचार्य राधेश्याम चतुर्वेदी द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – ग्रन्थ | Shri Netra Tantram : by Acharya Radheshyam Chaturvedi Hindi PDF Book – Granth

Book Nameश्रीनेत्रतन्त्रम / Shri Netra Tantram
Author
Category, , , ,
Language
Pages 608
Quality Good
Size 80 MB
Download Status Not Available
पुस्तक का डाउनलोड लिंक नीचे हरी पट्टी पर दिया गया है|

श्रीनेत्रतन्त्रम का संछिप्त विवरण : ग्रंथ के आरम्भ में भूमिका का संश्लेषण है जो तीन खंडो में विभक्त है। यधपि पूर्वप्रकाशित ‘तंत्रलोक’ की भूमिका में ‘तंत्रशास्त्र’ का उद्भव और विकास का संक्षिप्त परिचय दिया जा चूका है। तथापि पाठकों के सुविद्य को गया है। द्वितीय खंड यहाँ भूमिका के प्रथम खंड में तंत्र का स्वरुप
बतलाया……..

Shri Netra Tantram PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Granth ke Arambh mein bhoomika ka sanshleshan hai jo teen khando mein vibhakt hai. Yadhapi poorvaprakashit Tantralok kee bhoomika mein tantrashastr ka udbhav aur vikas ka sankshipt parichay diya ja chooka hai. Tathapi pathakon ke suvidy ko gaya hai. Dviteey khand yahan bhoomika ke pratham khand mein tantra ka svarup batalaya…………
Short Description of Shri Netra Tantram PDF Book : Granth ke aarambh mein bhoomika ka sanshleshan hai jo teen khando mein vibhakt hai. yadhapi poorvaprakaashit tantralok kee bhoomika mein tantrashaastr ka udbhav aur vikaas ka sankshipt parichay diya ja chooka hai. tathaapi paathakon ke suvidy ko gaya hai. dviteey khand yahaan bhoomika ke pratham khand mein tantr ka svarup batalaaya………………
“पहले से ही कुछ निर्धारित नहीं होता है: आपकी विगत बाधाएं वह मार्ग प्रदान करती हैं जिस पर चल कर आप नई शुरुआत कर सकते हैं।” – राल्फ ब्लम
“Nothing is predestined: The obstacles of your past can become the gateways that lead to new beginnings.” – Ralph Blum

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment