सौन्दर्य लहरी : स्वामी विष्णुतीर्थ महाराज द्वारा हिन्दी पीडीएफ़ पुस्तक | Saundarya Lahari : by Swami Vishnu Tirth Maharaj Hindi PDF Book

Book Nameसौन्दर्य लहरी / Saundarya Lahari
Author
Category,
Pages 411
Quality Good
Size 15.6 MB
Download Status Available

सौन्दर्य लहरी का संछिप्त विवरण : भारतीय तत्वज्ञानियों में जगदगुरू स्वामी शंकराचार्य का नाम सर्वप्रथम है। संस्कृत साहित्य के पंडितों का आज भी अभाव नहीं है किन्तु आध्यात्मिक अनुभूति और उच्च स्तर पर बाले साधन निष्ठ पुरुषों का अभाव सा ही है। पुस्तकों का साधारण अनुवाद कर देना सरल सी बात है है का तु ग्रंथ के गर्भ भाग में प्रवेश कर उसको आध्यात्मिक तत्व निकालना और उसे साधन उपयुक्त बनाकर जनता के सामने रखना बड़ा कठिन है……

Saundarya Lahari PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Bharatiy tatvagyaniyon mein jagadguru Swami Shankarachary ka nam sarvapratham hai. Sanskrt sahity ke panditon ka aj bhi abhav nahin hai kintu adhyatmik anubhuti aur uchch star par pahunchane vale sadhan nishth purushon ka abhav sa hi hai . Pustakon ka sadharan anuvad kar dena saral si bat hai kintu granth ke garbh bhag mein pravesh kar usako adhyaatmik tatv nikalana aur use sadhan upayukt banakar janata ke samane rakhana bada kathin hai………….
Short Description of Saundarya Lahari PDF Book : Jagadguru Swami Shankaracharya is the first name of Indian philosophers. Pundits of Sanskrit literature are not lacking today, but lack of spiritual perception and access to a higher level is the only lack of loyal men. It is easy to translate simple translations of books, but entering the womb part of the book and taking it out of the spiritual element and making it suitable, it is very difficult to put it in front of the public……………
“मृत्यु भयावह तरीके से निर्णायक होती है, जबकी जीवन सम्भावनाओं से भरा होता है।” टायरियन लैनिस्टर
“Death is so terribly final, while life is full of possibilities.” Tyrion Lannister

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment