हिंदी संस्कृत मराठी मन्त्र विशेष

आचार्य राजशेखर / Acharya Raj Shekhar

आचार्य राजशेखर : डॉ. श्यामा वर्मा द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - साहित्य | Acharya Raj Shekhar : by Dr. Shyama Verma Hindi PDF Book - Literature (Sahitya)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name आचार्य राजशेखर / Acharya Raj Shekhar
Author
Category, , , ,
Language
Pages 265
Quality Good
Size 4 MB
Download Status Available

आचार्य राजशेखर का संछिप्त विवरण : वस्तुत राजशेखर द्वारा प्रयुक्त किसी भी अलंकार की सूची बहुत दूर तक बड़ाई जा सकती है। यहाँ हमारा उद्देश्य उनके प्रत्येक अलंकार के उदाहरण प्रस्तुत करना मात्र नहीं है। हमने केवल कुछ अलंकारों को लेकर उनकी अलंकार योजना का प्रदर्शन किया है। उनकी अलंकार सृष्टि भावोपषयोगी……….

Acharya Raj Shekhar PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Vastut Rajshekhar dvara prayukt kisi bhee alankar kee soochi bahut door tak badai ja sakatee hai. Yahan hamara uddeshy unake pratyek alankar ke udaharan prastut karana matra nahin hai. Hamane keval kuchh alankaron ko lekar unakee alankar yojana ka pradarshan kiya hai. Unaki alankar srshti bhavopayogi………….
Short Description of Acharya Raj Shekhar PDF Book : In fact the list of any ornaments used by Rajasekhar can be enlarged to a great extent. Our aim here is not merely to provide examples of each of their ornaments. We have demonstrated his ornamentation scheme with only a few ornaments. His ornamental creation is utopian………..
“जीवन को गाड़ी के सामने के कांच से देखें, पीछे देखने के दर्पण में नहीं।” ‐ बर्ड बग्गेट्ट
“Look at life through the windshield, not the rear-view mirror.” ‐ Byrd Baggett

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Leave a Comment