आत्मानुभूति तथा उसके मार्ग : स्वामी विवेकानन्द द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – आध्यात्मिक | Aatmanubhuti Tatha Uske Marg : by Swami Vivekanand Hindi PDF Book – Adhyatmik (Spiritual)

Book Nameआत्मानुभूति तथा उसके मार्ग / Aatmanubhuti Tatha Uske Marg
Author
Category, ,
Language
Pages 152
Quality Good
Size 7.4 MB

पुस्तक का विवरण : इसके बाद आता है ‘समाधान’ अर्थात परमेश्वर में अपने चित्त को निरंतर स्थापित करने का अभ्यास। एक दिन में ही कोई बात बनकर नहीं आ जाती। धर्म ऐसी वस्तु नहीं है कि गोली जैसी निगल ली जाय। इसके लिए लगातार और कड़े अभ्यास की आवश्यकता है। धीरे धीरे और लगातार अभ्यास……….

Pustak Ka Vivaran : Iske Bad aata hai Samadhan arthat parameshvar mein apane chitt ko Nirantar sthapit karane ka abhyas. Ek Din mein hi koi bat banakar nahin aa jati. Dharm aise vastu nahin hai ki goli jaisi nigal li jay. Isake liye lagatar aur kade abhyas ki Aavashyakata hai. Dheere dheere aur lagatar abhyas……….

Description about eBook : Next comes ‘Samadhan’ i.e. the practice of continuously setting one’s mind in the Supreme Lord. Nothing comes together in a day. Religion is not something to be swallowed like a pill. It requires constant and rigorous practice. Slowly and steadily practice………

“आप पूछते हैं: जीवन का उद्देश्य और अर्थ क्या है? मैं इसका उत्तर केवल एक अन्य प्रश्न से दे सकता हूं: क्या आपके विचार से हम भगवान की सोच को समझने के लिए पर्याप्त बुद्धिमत्ता रखते हैं?” – फ्रीमैन डायसन
“You ask: what is the meaning or purpose of life? I can only answer with another question: do you think we are wise enough to read God’s mind?” -Freeman Dyson

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

1 thought on “आत्मानुभूति तथा उसके मार्ग : स्वामी विवेकानन्द द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – आध्यात्मिक | Aatmanubhuti Tatha Uske Marg : by Swami Vivekanand Hindi PDF Book – Adhyatmik (Spiritual)”

  1. Best
    Bahut hi accha sites hai 44 books.com
    Jo books English medium mein hote hai vah
    yahan Hindi medium mein Mil jata hai.
    Mujhe yeah site bahut accha laga.

    Reply

Leave a Comment