बड़ा घर का वैद्य : हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – स्वास्थ्य | Bada Ghar Ka Vaidhy : Hindi PDF Book – Health (Svasthya)

बड़ा घर का वैद्य : हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - स्वास्थ्य | Bada Ghar Ka Vaidhy : Hindi PDF Book - Health (Svasthya)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name बड़ा घर का वैद्य / Bada Ghar Ka Vaidhy
Author
Category, , , , ,
Language
Pages 252
Quality Good
Size 7.5 MB
Download Status Available

पुस्तक का विवरण : संयोगवश एक अस्सी नब्बे वर्षीय बुढ़िया से सम्पर्क हुआ | उसने बताया कि बच्ची को मेदा विकार की शिकायत है । जब तक मेदा ठीक नही होगा, बच्ची स्वस्थ नहीं होगी। फैसला किया गया कि बच्ची को तीन ग्राम काला नमक एक चम्मच पानी में पकाकर दिया जाए जो कि तुरन्त दे दिया गया । यह देखकर सभी हैरान रह गए कि ऐक मामूली-सी चीज़ ने ऐसा…

Pustak Ka Vivaran : Sanyogvash Ek Assi Navbe Varsheey budhiya se Sampark huya. Usne Bataya ki bachchi ko Meda Vikar ki Shikayat hai. Jab tak Meda theek nahi hoga, bachchi svasth nahin hogi. Faisala kiya gaya ki bachchi ko teen Gram kala Namak ek chammach Pani mein pakakar diya jaye jo ki turant de diya gaya. Yah dekhakar sabhi hairan rah gaye ki aik Mamuli-si cheez ne aisa…….

Description about eBook : Coincidentally, there was contact with an eighty-nine year old old lady. He told that the girl has a complaint of Meda disorder. Unless the flour is fine, the child will not be healthy. It was decided that the girl should be given three grams of black salt cooked in one teaspoon of water, which was given immediately. Everyone was astonished to see that such a

“उन लोगों से दूर रहें जो आप आपकी महत्त्वकांक्षाओं को तुच्छ बनाने का प्रयास करते हैं। छोटे लोग हमेशा ऐसा करते हैं, लेकिन महान लोग आपको इस बात की अनुभूति करवाते हैं कि आप भी वास्तव में महान बन सकते हैं।” ‐ मार्क ट्वेन
“Keep away from people who try to belittle your ambitions. Small people always do that, but the really great make you feel that you, too, can become great.” ‐ Mark Twain

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

\

Leave a Comment