बनवासी भारत : ब्रह्मदत्त दीक्षित द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – सामाजिक | Banvasi Bharat : by Brahmadatt Dixit Hindi PDF Book – Social (Samajik)

बनवासी भारत : ब्रह्मदत्त दीक्षित द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - सामाजिक | Banvasi Bharat : by Brahmadatt Dixit Hindi PDF Book - Social (Samajik)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name बनवासी भारत / Banvasi Bharat
Author
Category, , , ,
Language
Pages 128
Quality Good
Size 5 MB
Download Status Available

पुस्तक का विवरण : इस सामाजिक तथा राजनैतिक उद्देश्य के अतिरिक्त हमारी आर्थिक व्यवस्था की एकता भी आदिवासियों के प्रश्न को महत्व प्रदान करती हैं । भारत वर्ष को संसार की प्रतियोगिता में अपने सारे आर्थिक साधनों को उन्नत करना होगा। इस दृष्टि से जंगलों के उपयोग का महत्व बढ़ जाता है। देश के जंगली भूखंड में खनिज…..

Pustak Ka Vivaran : Is Samajik tatha Rajnaitik uddeshy ke Atirikt hamari Aarthik vyavastha ki Ekata bhi Aadivasiyon ke prashv ko Mahatv pradan karati hain . Bharat varsh ko sansar ki Pratiyogita mein Apane sare Aarthik sadhanon kon unnat karana hoga. Is Drshti se jangalon ke upayog ka Mahatv badh jata hai. Desh ke Jangali Bhookhand mein khanij…..

Description about eBook : Apart from this social and political purpose, the unity of our economic system also gives importance to the adivasi’s question. The year of India will have to upgrade all its economic resources in the competition of the world. In this view, the importance of the use of forests increases. Minerals in the wild plots of the country ……

“ऐसा व्यक्ति जो अनुशासन के बिना जीवन जीता है वह सम्मान रहित मृत्यु मरता है।” ‐ आईसलैण्ड की कहावत
“He who lives without discipline dies without honor.” ‐ Icelandic Proverb

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment