भक्ति सूत्र : ओशो द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – आध्यात्मिक | Bhakti Sutra : by Osho Hindi PDF Book – Spiritual (Adhyatmik)

Book Nameभक्ति सूत्र / Bhakti Sutra
Author
Category, , , ,
Language
Pages 440
Quality Good
Size 3 MB

पुस्तक का विवरण : शरीर के साथ जुडी है कामवासना। कामवासना स्थूल है। शरीर शरीर को मांगता हैः कामवासना का अर्थ। शरीर अपने से विपरीत शरीर को मांगता है; क्‍योंकि एक किनारा अधूरा है, दूसरे किनारे की चाह पैदा होती है। पुरुष स्त्री को मांगता है, स्त्री पुरुष को मांगती है, ताकि जीवन की सरिता बीच में बह सके……….

भक्ति सूत्र : ओशो द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – आध्यात्मिक | Bhakti Sutra : by Osho Hindi PDF Book – Spiritual (Adhyatmik)

Pustak Ka Vivaran : Shareer ke sath Judi hai kamvasana. Kamvasana sthool hai. Shareer shareer ko mangata haih kamvasana ka arth. Shareer apne se vipareet shareer ko mangata hai; k‍yonki ek kinara adhoora hai, doosare kinare ki chah paida hoti hai. Purush Stri ko mangata hai, Stri Purush ko mangati hai, taki jeevan ki sarita beech mein bah sake……….

Description about eBook : Sex is associated with the body. Sex is gross. The body demands the body: the meaning of sex. The body demands a body opposite to itself; Because one edge is incomplete, the desire for the other side arises. Man asks for woman, woman asks for man, so that the stream of life can flow in the middle…….

“जीवन में अपने आपके सुधार (शारीरिक और मानसिक, दोनों) को पहली प्राथमिकता दें।” ‐ रॉबिन नार्वुड
“Make your own recovery (physical and mental, both) the first priority in your life.” ‐ Robin Norwood

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

1 thought on “भक्ति सूत्र : ओशो द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – आध्यात्मिक | Bhakti Sutra : by Osho Hindi PDF Book – Spiritual (Adhyatmik)”

  1. मान्यवर,
    मुझे आपके द्वारा किया गया प्रयास बहुत ही अच्छा लगा।
    जब से मैंने इस वेबसाइट के बारे में जाना है, तब से ही कोई भी पुस्तक को डाउनलोड करने के लिए इसी का सहारा लेता हूं।
    इसकी सबसे अच्छी बात ये लगी के 1 क्लिक में ही पुस्तक डाउनलोड हो जाती है।
    धन्यवाद

    Reply

Leave a Comment