भरे हुए घर का सन्नाटा : अजीज आज़ाद द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – साहित्य | Bhare Huye Ghar Ka Sannata : by Aziz Azad Hindi PDF Book – Literature (Sahitya)

Book Nameभरे हुए घर का सन्नाटा / Bhare Huye Ghar Ka Sannata
Author
Category, , ,
Language
Pages 84
Quality Good
Size 510 KB
Download Status Available

भरे हुए घर का सन्नाटा पीडीऍफ़ पुस्तक का संछिप्त विवरण :  मित्र कई दिनों से यह रहे थे कि अब मेरा एक गजल संग्रह शीघ्र निकलना चाहिए,
लेकिन विपरीत परिस्थितियों के कारण लिखने का मानस नहीं बन पा रहा था। अगर आज यह पुस्तक आपके
हाथों में आई है। तो यह भाई डॉ. नन्‍्द किशोर आचार्य की प्रेरणा का ही असर है। उन्होंने ही मेरे सोये हुए
मानस को जगाया और मुझे.

Bhare Huye Ghar Ka Sannata PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Mitra kai Dinon se Yah Rahe the ki ab mera Ek Gajal Sangrah sheeghra Nikalana chahiye, Lekin Vipareet Paristhitiyon ke karan Likhane ka Manas Nahin ban pa raha tha. Agar Aaj yah Pustak Aapake Hathon mein aayi hai. To Yah Bhai do. Nand kishor Aachary kee Prerana ka hee Asar hai. Unhonne hee Mere Soye huye Manas ko jagaya aur mujhe………

Short Description of Bhare Huye Ghar Ka Sannata Hindi PDF Book : My friends had been living for many days now that a ghazal collection of mine should come out soon, but due to adverse circumstances, the psyche of writing was not being made. If today this book has come into your hands. So this is the effect of the inspiration of brother Dr. Nand Kishore Acharya. He only woke up my sleeping psyche and me ……

 

“यदि एक बड़ा कदम उठाने की आवश्यकता है, तो डरें नहीं। आप गहरी खाई को दो छोटे फलांग लगा कर नहीं पार कर सकते हैं।” ‐ डेविय लायड जार्ज
“Don’t be afraid to take a big step if one is indicated. You can’t cross a chasm in two small jumps.” ‐ David Lloyd George

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment