जौहर : श्रीश्यामनारायण पाण्डेय द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – काव्य | Jauhar : by Shri Shyam Narayan Pandey Hindi PDF Book – Poetry (Kavya)

Book Nameजौहर / Jauhar
Author
Category, , , ,
Language
Pages 252
Quality Good
Size 4 MB
Download Status Available

पुस्तक का विवरण : अगणित तलवारों के भयंकर प्रकाश से दरबार प्रकाशित हो गया, वीर सलामी के बाद सहत्त्रों मुखो से एक साथ निकल पड़ा “हम राजलक्ष्मी के पतिव्रत की रक्षा के लिए मर मिटेंगे, हम अपने गौरव के लिए समरयज्ञ में स्वाह हो जायेंगे और रावल के लिए, प्राण दे देंगे। चित्तौड़ का वक्षस्थल अभिमान से तन गया और वीरों की दर्पपूर्ण शब्दावली से आकाश का स्तर-स्तर……

Pustak Ka Vivaran : Aganit Talvaron ke Bhayankar prakash se Darbar prakashit ho gaya, Veer Salami ke bad Sahastron Mukho se ek sath Nikal pada “Ham Rajlakshmi ke Pativrat ki Raksha ke liye mar Mitenge, ham apne Gaurav ke liye Samaryagy mein svah ho jayenge aur Rawal ke liye, pran de denge. Chittore ka vakshasthal Abhiman se tan gaya aur Veeron ki Darpapurn Shabdavali se Aakash ka star-star…….

Description about eBook : The court was illuminated by the fierce light of innumerable swords, after the heroic salute, thousands of faces came out together, “We will die to protect the husband of Rajalakshmi, we will be swamped for our pride and for the sake of Rawal, we will die. will give. The chest of Chittor was filled with pride and the sky level-level with the eloquent words of the heroes……..

“मोह में हम बुराइयां नहीं देख पाते, लेकिन घृणा में हम अच्छाइयां नहीं देख पाते।” ‐ इबा एज़रा
“Love blinds us to faults, but hatred blinds us to virtues.” ‐ Iba Ezra

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

1 thought on “जौहर : श्रीश्यामनारायण पाण्डेय द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – काव्य | Jauhar : by Shri Shyam Narayan Pandey Hindi PDF Book – Poetry (Kavya)”

Leave a Comment