लड़का जिसे लफ्जों से प्यार था : रॉनी शॉटर द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – बच्चों की पुस्तक | Ladka Jise Laphzon Se Pyar Tha : by Ronnie Shorter Hindi PDF Book – Children’s Book (Bachchon Ki Pustak)

Book Nameलड़का जिसे लफ्जों से प्यार था / Ladka Jise Laphzon Se Pyar Tha
Author
Category, ,
Language
Pages 19
Quality Good
Size 1.5 MB
Download Status Available

लड़का जिसे लफ्जों से प्यार था का संछिप्त विवरण : जब भी सेलिग कोई ऐसा लफ्ज़ सुनता जो उसे पसन्द आता, वह ज़ोर से चीख कर उसे बोलता, कागज़ के पुर्ज पर उसे दर्ज करता, और तब अपनी जेब में उसे कूंस देता ताकि वह सुरक्षित रहे। कमाल का जमाखोर था वह! सेलिग की जेबें लफ्ज़ों से लबालब भरी रहतीं। पर नए शब्द वह अपनी कमीज़ के अन्दर रखता, अपने मोज़ों में भरता, आस्तीनों में……

Ladka Jise Laphzon Se Pyar Tha PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Jab Bhi Selig koi aisa laphz sunata jo use pasand aata, vah zor se cheekh kar use bolata, kagaz ke purj par use darj karta, aur tab apni jeb mein use koons deta taki vah surakshit rahe. Kamal ka jamakhor tha vah ! Selig ki jeben laphzon se labalab bhari rahateen. Par naye Shabd vah apni kameez ke andar rakhata, apane mozon mein bharata, Aasteenon mein……..
Short Description of Ladka Jise Laphzon Se Pyar Tha PDF Book : Whenever Selig heard a word he liked, he would scream it out loud, record it on a piece of paper, and then tuck it in his pocket to keep it safe. He was a wonderful hoarder! Selig’s pockets were filled with words. But new words he kept in his shirt, stuffed in his socks, in his sleeves…….
“अपने मित्र को उसके दोषों को बताना मित्रता की सबसे कठोर परीक्षा होती है।” – हैनरी वार्ड बीचर
“It is one of the severest tests of friendship to tell your friend his faults.” – Henry Ward Beecher

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment