माधव निदान : चंडिकाप्रसाद अवस्थी द्वारा हिन्दी पीडीएफ़ पुस्तक – स्वास्थ्य | Madhav Nidan : by Chandika Prasad Avasthi Hindi PDF Book – Health (Swasthaya)

माधव निदान : चंडिकाप्रसाद अवस्थी द्वारा हिन्दी पीडीएफ़ पुस्तक – स्वास्थ्य | Madhav Nidan : by Chandika Prasad Avasthi Hindi PDF Book – Health (Swasthaya)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name माधव निदान / Madhav Nidan
Author
Category, ,
Pages 626
Quality Good
Size 264 MB
Download Status Available

माधव निदान का संछिप्त विवरण : निदान आदि रोग का ज्ञान कराने में सभी मिलकर और अलग-अलग भी समर्थ हैं। जैसे मूत्रग्रन्थि और अश्मरी में स्थान, बेदना और कारण सब एक ही होते हैं, किन्तु पूर्वरूप से भेद का निश्चय होता है। बकरे के मूत्र की-सी गन्ध अश्मरी ही में होती है, मूत्रग्रन्थि में नहीं……..

Madhav Nidan PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Nidan adi rog ka gyan karane mein sabhi milakar aur alag-alag bhi samarth hain. Jaise mootragranthi aur ashmari mein sthan, vedana aur karan sab ek hi hote hain, kintu poorvaroop se bhed ka nishchay hota hai. Bakare ke mootr ki-si gandh ashmari hi mein hoti hai, mootragranthi mein nahi.………….
Short Description of Madhav Nidan PDF Book : In diagnosis and diagnosis etc., all together and different are also capable. Like places in the urinary organs and rashes, pains and causes are all the same, but the determination of distinction from the past is decided. The goat’s urine is just a scent of stones. Occurs in the urine, not in the urine…………..
“यदि आप एक वर्ष की व्यवस्था कर रहे हैं, तो चावल उगाएं; यदि आप एक दशक की व्यवस्था कर रहे हैं, तो वृक्ष लगाएं; अगर आप जीवनभर की व्यवस्था कर रहे हैं, तो लोगों को शिक्षा दें।” ‐ चीन की कहावत
“If you are planning for a year, sow rice; if you are planning for a decade, plant trees; if you are planning for a lifetime, educate people.” ‐ Chinese proverb

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment