मारवाड़ का इतिहास भाग-2 : विश्वेश्वरनाथ रेउ द्वारा हिन्दी पीडीएफ़ पुस्तक | Marwar Ka Itihas Bhag-2 : by Bishweshwar Nath Reu Hindi PDF Book

मारवाड़ का इतिहास भाग-2 : विश्वेश्वरनाथ रेउ द्वारा हिन्दी पीडीएफ़ पुस्तक | Marwar Ka Itihas Bhag-2 : by Bishweshwar Nath Reu Hindi PDF Book
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name मारवाड़ का इतिहास भाग-2 / Marwar Ka Itihas Bhag-2
Author
Category,
Language
Pages 231
Quality Good
Size 105 MB
Download Status Available

मारवाड़ का इतिहास भाग-2 पुस्तक का कुछ अंश : उस समय मारवाड़ के नल _त से सरदार आकर इनकी सेवा में उपस्थित हो गए और जब बहां पर उनकी तरफ़ से नज़र निछावर हो गई, तब मानसिंहजी की तरफ़ से भी उन सब का यथोचित आदर-सत्कार किया गया | मेंगसिर बदि 7 को यह जोधपुर के किले में प्रविष्ट हुए | इस पर पौकरन-ठाकुर सवाईसिंह ने निवेदन किया कि स्वर्गवासी महाराजा भीमसिंहजी की एक रानी गर्भवती है। यदि उसके गर्भ स पुत्र उत्पन्न हुआ तो उसके लिये आप क्या प्रबंध करेंगे…….

Marwar Ka Itihas Bhag-2 PDF Pustak in Hindi Ka Kuch Ansh : Us samay mawar ke bahut se saradar akar inaki seva mein upasthit ho gae aur jab vahan par unaki taraf se nazar nichhavar ho gai, tab manasinhaji ki taraf se bhi un sab ka yathochit adar-satkar kiya gaya. Maigasir vadi 7 ko yah jodhapur ke kile mein pravisht hue. Is par paukaran-thakur Savaisingh ne nivedan kiya ki svargavasi maharaja Bhimasinhaji ki ek rani garbhavat hai. Yadi usake garbh se putr utpann hua to usake liye ap kya prabandh karenge………….
Short Passage of Marwar Ka Itihas Bhag-2 Hindi PDF Book : At that time, a large number of Marwar soldiers came and were present in their service and when they looked at them from there, then they were felicitously treated by Mansinghaji. Magasir Vadi 7 entered the fort of Jodhpur. On this Pankaran-Thakur Sawai Singh requested that a queen of the late Maharaja Bhim Singhji is pregnant. If a son is born to her womb, what will you manage for her?…………..
“मृत्यु और टैक्स और संतान! इन में से किसी के लिए भी कभी उचित वक़्त नहीं होता।” ‐ माग्रेट मिशेल
“Death and taxes and childbirth! There’s never any convenient time for any of them.” ‐ Margaret Mitchell

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment