नित्य कर्म पूजा प्रकाश : राधेश्याम खेमका द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – ग्रन्थ | Nitya Karm Pooja Prakash : by Radheshyam Khemaka Hindi PDF Book – Granth

नित्य कर्म पूजा प्रकाश : राधेश्याम खेमका द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - ग्रन्थ | Nitya Karm Pooja Prakash : by Radheshyam Khemaka Hindi PDF Book - Granth
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name नित्य कर्म पूजा प्रकाश / Nitya Karm Pooja Prakash
Author
Category, , ,
Language
Pages 132
Quality Good
Size 15.2 MB
Download Status Available

नित्य कर्म पूजा प्रकाश का संछिप्त विवरण : भगवान को जल से अर्ध्य दे। अर्ध्य में चन्दन और फूल मिला ले। सवेरे और दोपहर को एक एड़ी उठायें हुए खड़े होकर अर्ध्य देना चाहिए। सवेरे कुछ झुककर खड़ा होवे और दोपहर को सीधे खड़े होकर और शाम को बैठकर। सवेरे और शाम को तीन-तीन अंजलि दे और दोपहर को एक अंजलि …….

Nitya Karm Pooja Prakash PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Bhagawan ko jal se arghy de. Arghy mein chandan aur phool mila le. savere aur dopahar ko ek edee uthayen hue khade hokar Arghy dena chahiye. Savere kuchh jhukakar khada hove aur dopahar ko seedhe khade hokar aur sham ko baithakar. savere aur sham ko teen-teen Anjali de aur dopahar ko ek Anjali…………
Short Description of Nitya Karm Pooja Prakash PDF Book : Offer the Lord with water. Mix sandalwood and flowers in Arghya. Arghya should be given standing in the morning and afternoon with one heel raised. In the morning, bend down and stand up straight in the afternoon and sit in the evening. Give three anjali in the morning and evening and one in the afternoon………..
“अपने डैनों के ही बल उड़ने वाला कोई भी परिंदा बहुत ऊंचा नहीं उड़ता।” ‐ विलियम ब्लेक (१७५७-१८२७), अंग्रेज़ कवि व कलाकार
“No bird soars too high if he soars with his own wings.” ‐ William Blake (1757-1827), British Poet and Artist

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment