पूरी जो कढ़ाई से निकल भागी : जाकिर हुसैन द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – बच्चों की पुस्तक | Poori Jo Kadhai Se Nikal Bhagi : by Zakir Hussain Hindi PDF Book – Children’s Book (Bachchon Ki Pustak)

Book Nameपूरी जो कढ़ाई से निकल भागी / Poori Jo Kadhai Se Nikal Bhagi
Author
Category,
Language
Pages 8
Quality Good
Size 423 KB
Download Status Available

पूरी जो कढ़ाई से निकल भागी का संछिप्त विवरण : गाँव में एक किसान और उसकी बीवी रहते थे। किसान नाम था मनसा और उसकी बीवी का गुड़िया। उनके पास रुपया पैसा अच्छा खासा था मगर घर में काम करने वाले आदमी कम थे। इसलिए हमेशा दूसरों मजदूरी काम लेना पड़ता था। बैसाख का महीना था। मनसा के खेतों में गेहूं की फसल खूब हुई थी। और खेत कट भी चुके थे……..

Poori Jo Kadhai Se Nikal Bhagi PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Ganv mein ek kisan aur usakee Biwi rahate the. Kisan nam tha manasa aur usakee Biwi ka gudiya. Unake pas Rupaya paisa achchha khasa tha magar ghar mein kam karane vale aadami kam the. Isaliye hamesha doosaron majadooree kam lena padata tha. Baisakh ka mahina tha. Manasa ke kheton mein gehoon kee phasal khoob huyi thee. aur khet kat bhee chuke the…………
Short Description of Poori Jo Kadhai Se Nikal Bhagi PDF Book : If you want to run a home-craft then one thing is necessary. A young man has to send CASM Bazar Polytechnic or similar other organization to work learning to work. Casserole market and the Goddess statues of Goddess are very good………..
“प्रकृति की गति अपनाएं: उसका रहस्य है धीरज।” ‐ राल्फ वाल्डो इमर्सन
“Adopt the pace of nature: her secret is patience.” ‐ Ralph Waldo Emerson

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment