सकुन्तला नाटक : राजेन्द्र शर्मा द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – साहित्य | Sakuntala Natak : by Rajendra Sharma Hindi PDF Book – Literature (Sahitya)

सकुन्तला नाटक : राजेन्द्र शर्मा द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - साहित्य | Sakuntala Natak : by Rajendra Sharma Hindi PDF Book - Literature (Sahitya)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name सकुन्तला नाटक / Sakuntala Natak
Author
Category, ,
Language
Pages 204
Quality Good
Size 3.7 MB
Download Status Available

सकुन्तला नाटक पीडीऍफ़ पुस्तक का संछिप्त विवरण :  इसका नाम मुजफ्फर हुसैन था पर यह विदाई खां कोका के नाम से प्रसिद्ध था। यह
खानजहां बहादुर बड़ा भाई था। शाहजहां के राज्यकाल में अपनी सेवाओं के कारण विशेष सम्मान और
विश्वास का पात्र हो गया था। बादशाह ने कृपा करके इसका मंसूद पांचसदी २०० सवार बढाकर ३० वें वर्ष के
प्रारम्भ में फिदाई खां.

Sakuntala Natak  PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Isaka Nam Mujaphphar husain tha par yah Vidai khan koka ke nam se Prasiddh tha. Yah khanjahan bahadur bada bhai tha. Shahajahan ke Rajyakal mein Apani Sevaon ke karan vishesh samman aur vishvas ka Patra ho gaya tha. Badshah ne krpa karake isaka Mansood Panchasadi 200 Savar badhakar 30 ven varsh ke prarambh mein phidai khan………

Short Description of Sakuntala Natak Hindi PDF Book : Its name was Muzaffar Hussain, but it was known as Farewell Khan Koka. This was Khan Jahan Bahadur’s elder brother. Due to his services during the reign of Shah Jahan, he deserved special respect and trust. The emperor kindly increased its number of passengers by five hundred 200 riders at the beginning of the 30th year….

 

“एक पुरुष का चेहरा उसकी आत्म-कथा है। एक महिला का चेहरा उसकी कल्पित-कथा है।” ‐ ऑस्कर वाइल्ड
“A man’s face is his autobiography. A woman’s face is her work of fiction.” ‐ Oscar Wilde

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment