शारीरिक शिक्षा की नवीन प्रवृत्तियाँ : डॉ. कृष्णकांत साहू द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – सामाजिक | Sharirik Shiksha Ki Navin Pravrattiyan : by Dr. Krishnakant Sahu Hindi PDF Book – Social (Samajik)

शारीरिक शिक्षा की नवीन प्रवृत्तियाँ : डॉ. कृष्णकांत साहू द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - सामाजिक | Sharirik Shiksha Ki Navin Pravrattiyan : by Dr. Krishnakant Sahu Hindi PDF Book - Social (Samajik)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name शारीरिक शिक्षा की नवीन प्रवृत्तियाँ / Sharirik Shiksha Ki Navin Pravrattiyan
Author
Category, ,
Language
Pages 214
Quality Good
Size 60 MB
Download Status Available

पुस्तक का विवरण : स्कूलों के अन्तर्गत व्यायाम और क्रीड़ा से सम्बन्धित आवश्यक औजारों को कार्य करने वाले मनुष्य को उपलब्ध कराना। शारीरिक शिक्षा के दिशा में सुविधा का अर्थ है इस क्षेत्र में उपलब्ध तमाम संसाधन व उन संसाधनों को चलाने के लिए नेतृत्व शक्ति व कार्य क्रियान्वयन की विधि आदि को किस ढंग से उपलब्ध करायी जाय या उपलब्ध……

Pustak Ka Vivaran : Schoolon ke Antargat vyayam aur krida se Sambandhit Aavashyak Aujaron ko kary karne vale Manushy ko uplabdh karana. Sharirik shiksha ke disha mein suvidha ka arth hai is kshetra mein uplabdh tamam Sansadhan va un sansadhanon ko chalane ke liye Netrtv shakti va kary kriyanvayan ki vidhi aadi ko kis dhang se uplabdh karayi jay ya uplabdh………

Description about eBook : To make available the necessary tools related to exercise and sports under the schools to the working man. Facilitation in the direction of physical education means all the resources available in this area and in order to run those resources, how to make available or make available the leadership power and method of implementation of work etc………

“जो गिना जा सकता है आवश्यक नहीं कि उसकी गिनती हो, और आवश्यक नहीं कि जिसकी गिनती हो उसे गिना जा सकता हो।” ‐ अल्बर्ट आइन्सटीन
“Not everything that can be counted counts, and not everything that counts can be counted.” ‐ Albert Einstein

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment