शासन – पथ निदर्शन : पुरुषोत्तमदास टण्डन द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – साहित्य | Shasan – Path Nidarshan : by Purushottam Das Tandon Hindi PDF Book – Literature (Sahitya)

शासन - पथ निदर्शन : पुरुषोत्तमदास टण्डन द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - साहित्य | Shasan - Path Nidarshan : by Purushottam Das Tandon Hindi PDF Book - Literature (Sahitya)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name शासन – पथ निदर्शन / Shasan – Path Nidarshan
Author
Category, , ,
Language
Pages 320
Quality Good
Size 19 MB
Download Status Available

शासन – पथ निदर्शन का संछिप्त विवरण : प्रस्ताव पर और दूसरे संशोधन भी हैं। प्रस्ताव में यह बात स्पष्ट कही गयी है कि समस्त सत्ता जनता के हाथ में होगी। कुछ लोगों का सुझाव है कि “जनता” की जगह “काम करने वाली जनता” रख दिया जाय । मैं इसके विरुद्ध हूँ । जनता शब्द से मतलब है तमाम निवासियों का मैं स्वयं किसानों का एक सेवक हूँ | उनके साथ काम करना ही मेरे लिये एक बड़ा गौरव है। जनता शब्द बोधगम्य है और इसमें सभी………

Shasan – Path Nidarshan PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Prastav par aur doosare Sanshodhan bhi hain. Prastav mein yah bat spasht kahi gayi hai ki samast satta janata ke hath mein hogi. Kuchh logon ka sujhav hai ki “Janata” ki jagah “kam karane vali janata” rakh diya jay . Main isake viruddh hoon . Janata shabd se matlab hai tamam nivasiyon ka main svayan kisanon ka ek sevak hoon . Unke sath kam karana hi mere liye ek bada Gaurav hai. Janata shabd bodhagamy hai aur isamen sabhi…….
Short Description of Shasan – Path Nidarshan PDF Book : There are other amendments to the motion as well. It has been made clear in the resolution that all the power will be in the hands of the people. Some people suggest that “the public” be replaced by “the working people”. I am against it. The word Janata means that of all the residents, I myself am a servant of the farmers. It is a great honor for me to work with him. The word Janta is intelligible and in it all………
“जिन्दगी वैसी नहीं है जैसी आप इसके लिए कामना करते हैं, यह तो वैसी बन जाती है जैसा आप इसे बनाते हैं।” ‐ एंथनी रयान
“Life isn’t what you want it to be, it’s what you make it become.” ‐ Anthony Ryan

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment