श्रीरासपञ्चाध्यायी : वेदव्यास द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – ग्रन्थ | Shri Raspanchadhyayi : by Vedvyas Hindi PDF Book – Granth

श्रीरासपञ्चाध्यायी : वेदव्यास द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - ग्रन्थ | Shri Raspanchadhyayi : by Vedvyas Hindi PDF Book - Granth
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name श्रीरासपञ्चाध्यायी / Shri Raspanchadhyayi
Author
Category, ,
Language
Pages 762
Quality Good
Size 2 MB
Download Status Available

श्रीरासपञ्चाध्यायी का संछिप्त विवरण : नित्यरास और महारास भेदसे रास दो प्रकार के होते है। आदिपुराण में नित्यरास तथा श्रीमदभागवत आदि में महारास के विषय में वर्णन किया गया है। पुन: शारदीय और वसंत के भेदसे महारास भी दो प्रकार का स्वीकार किया जाता है। प्रत्येक पूर्णिमा की रात रासलीला होने पर शारदीय तथा वसंत रास का वर्णन ही सर्वत्र पाया जाता है ……….

Shri Raspanchadhyayi PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Nityaras aur Maharas bhedase Ras do prakar ke hote hai. Aadipuran mein nityaras tatha shreemadabhagavat aadi mein maharas ke vishay mein varnan kiya gaya hai. Pun: sharadeey aur vasant ke bhedase maharas bhee do prakar ka sveekar kiya jata hai. Pratyek Purnima kee Rat Rasleela hone par sharadeey tatha vasant Ras ka varnan hee sarvatr paya jata hai…………
Short Description of Shri Raspanchadhyayi PDF Book : Nityaras and Maharas are two types of distinction. In the Adipuran, the Nityaras and the Shrimad Bhagwat etc. are described about Maharas. Again two types of Maharas are also accepted by the distinction of Shardiya and Vasant. The description of Shardiya and Vasant Rasa is found everywhere on every full moon night……………….
“अगर एक व्यक्ति को मालूम ही नहीं कि उसे किस बंदरगाह की ओर जाना है, तो हवा की हर दिशा उसे अपने विरुद्ध ही प्रतीत होगी।” सेनेका
“If a man does not know to which port he is steering, no wind is favourable to him.” Seneca

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment