उस पार से : डॉ. महेश जायसवाल द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – साहित्य | Us Par Se : by Dr. Mahesh Jayasval Hindi PDF Book – Literature (Sahitya)

उस पार से : डॉ. महेश जायसवाल द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - साहित्य | Us Par Se : by Dr. Mahesh Jayasval Hindi PDF Book - Literature (Sahitya)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name उस पार से / Us Par Se
Author
Category, , , ,
Language
Pages 213
Quality Good
Size 104 MB
Download Status Available

उस पार से का संछिप्त विवरण : दो घंटे तक हम सड़कों, बाजारों और गलियों में घूमते रहे | रात की चकाचौंध देखकर हम सोचते कि यहाँ यह हालत है तो पेरिस, लंदन और रोम का क्या हाल होगा ? वहाँ तो शायद धूप का चश्मा लगाकर रात में बाहर निकलना पड़ेगा | दरअसल हम लोग भारत के पुराने और मटमले परिवेश से गये थे । बंबई, कलकत्ते में कभी………

Us Par Se PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Do Ghante tak ham sadakon, bazaron aur galiyon mein ghoomate rahe . Rat ki chakachaundh dekhakar ham sochate ki yahan yah halat hai to Paris, londan aur Rom ka k‍ya hal hoga ? Vahan to shayad dhoop ka chashma lagakar rat mein bahar nikalana padega . Darasal ham log bharat ke purane aur matamale parivesh se gaye the . Bambai, Calcutta mein kabhi……..
Short Description of Us Par Se PDF Book : We roamed the streets, markets and streets for two hours. Seeing the glare of the night, we thought that if this is the condition here, what will happen to Paris, London and Rome? You will probably have to go out in the night wearing sunglasses. Actually, we went from the old and dirty environment of India. Never in Bombay, Calcutta ……..
“जब यह साफ हो कि लक्ष्यों को प्राप्त नहीं किया जा सकता है, तो लक्ष्यों में फेरबदल न करें, बल्कि अपनी प्रयासों में बदलाव करें।” ‐ कंफ्यूशिअस
“When it is obvious that the goals cannot be reached, don’t adjust the goals, adjust the action steps.” ‐ Confucius.

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment