युग की आवाज : सत्यपाल ‘आनन्द’ द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – कहानी | Yug Ki Aavaj : by Satyapal ‘Anand’ Hindi PDF Book – Story (Kahani)

युग की आवाज : सत्यपाल 'आनन्द' द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - कहानी | Yug Ki Aavaj : by Satyapal 'Anand' Hindi PDF Book - Story (Kahani)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name युग की आवाज / Yug Ki Aavaj
Author
Category, ,
Language
Pages 280
Quality Good
Size 6.6 MB
Download Status Available

युग की आवाज का संछिप्त विवरण : मैंने इधर उधर देखा। मेरी तरह बहुत से यात्री ग्यारह बजे खाली बस पकड़ते हैं, इसलिये पायः जाने पहचाने चेहरे नज़र आने लगे | इनमें डाक्टर कामता प्रसाद का चेहरा था। गोलमटोल चेहरे पर कमजोर ठोड़ी एक ढोले से स्विच की तरह लटक रही थी। चेहरा निराश और थका थका था। मैंने सोचा, इस स्विच को ऊपर नीचे करने के बाद भी………

Yug Ki Aavaj PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Mainne idhar udhar dekha. Meri tarah bahut se yatri gyarah baje khali bas pakadate hain, isliye payah jane pahachane chehare nazar aane lage. Inamen doctor kamata prasad ka chehara tha. Golmatol chehare par kamjor thodi ek dhole se svich ki tarah latak rahi thi. Chehara Nirash aur thaka thaka tha. Mainne socha, is swich ko oopar neeche karane ke bad bhi……..
Short Description of Yug Ki Aavaj PDF Book : I looked here and there. Like me, many passengers catch the empty bus at eleven o’clock, so the familiar faces started appearing. Among them was the face of Dr Kamta Prasad. The weak chin on the chubby face was hanging like a switch from a drum. The face was disappointed and tired. I thought, even after turning this switch up and down………
“गलतियों से न सीखना ही एकमात्र गलती होती है।” ‐ रॉबर्ट फ्रिप्प
“There are no mistakes, save one: the failure to learn from a mistake.” ‐ Robert Fripp

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment