आज का रूस : नित्या नारायण बनेर्जी द्वारा हिन्दी पीडीएफ़ पुस्तक | Aaj Ka Russia : by Nitya Narayan Bannerji Hindi PDF Book

आज का रूस : नित्या नारायण बनेर्जी द्वारा हिन्दी पीडीएफ़ पुस्तक | Aaj Ka Russia : by Nitya Narayan Bannerji Hindi PDF Book
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name आज का रूस / Aaj Ka Russia
Author
Category,
Language
Pages 297
Quality Good
Size 3 MB
Download Status Available

आज का रूस पुस्तक का कुछ अंश : निरक्षरता दूर करने, सबको सामाजिक स्थिति समान बनाने, स्त्रियाँ की दशा सुधारने और उत्पादन तथा वितरण की प्रणाली मे मौलिक परिवर्तन करने मे यू एस एस आर ने दस वर्ष के अल्पकाल मे ही एक रेकॉर्ड स्थापित कर दिया है। इस रेकॉर्ड ने संसार के जनमत को नागात्मक घृणिकी और से ‘पलटकर…….

Aaj Ka Russia PDF Pustak in Hindi Ka Kuch Ansh : Niraksharata door karane, sabako saamaajik sthiti samaan banaane, striyon kee dasha sudhaarane aur utpaadan tatha vitaran kee pranaalee me maulik parivartan karane me yoo es es aar ne das varsh ke alpakaal me hee ek rekord sthaapit kar diya hai. is rekord ne sansaar ke janamat ko naagaatmak ghrnikee aur se palatakar………….

 

Short Passage of Aaj Ka Russia Hindi PDF Book : In a short spell of ten years, the USSR has set a record for reducing illiteracy, making everyone equal in social status, improving the condition of women and making fundamental changes in the system of production and distribution. This record revolves around the world’s opinion from cogitative hooliganism and…………..
“बुद्धि का अर्जन हम तीन तरीकों से कर सकते हैं: प्रथम, चिंतन से, जो कि उत्तम है; द्वितीय, दूसरों से सीखकर, जो सबसे आसान है; और तृतीय, अनुभव से, जो सबसे कठिन है।” ‐ कन्फ़्यूशियस
“By three methods we may learn wisdom: First, by reflection, which is noblest; Second, by imitation, which is easiest; and third by experience, which is the bitterest.” ‐ Confucious

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment