आयुर्वेद का कमाल रोगों के निदान में : सतगुरु मधु परमहंस जी द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – आयुर्वेद | Ayurveda Ka Kamal Rogon Ke Nidan Mein : by Satguru Madhu Paramhans Ji Hindi PDF Book – Ayurveda

Book Nameआयुर्वेद का कमाल रोगों के निदान में / Ayurveda Ka Kamal Rogon Ke Nidan Mein
Author,
Category, ,
Language
Pages 112
Quality Good
Size 462 KB
Download Status Available

पुस्तक का विवरण : जब भी हम पलकें झपकाते हैं तो आँखों की एक ग्रन्थि से निकलने वाला एक तरल पदार्थ गोलों के ऊपर से निकलकर जाता है और आँखों को तरल रखता है। आँखें बंद करके सूर्य की तरफ मुँह करके खड़े हो जाएँ। कुछ देर सिर को दाएँ-बाएँ घुमाकर एक सैकेंड के लिए आँखें खोलें, पर सूर्य की तरफ मत देखें उसके आस-पास ही……..

Pustak Ka Vivaran : Jab bhi ham Palaken Jhapakate hain to Aankhon ki ek Granthi se Nikalane vala ek taral padarth golon ke oopar se Nikalkar jata hai aur aankhon ko taral rakhata hai. Aankhen band karake soory ki taraph munh karake khade ho jayen. Kuchh der sir ko dayen-bayen Ghumakar ek second ke liye aankhen kholen, par soory ki taraph mat dekhen, usake aas-pas hi………

Description about eBook : Whenever we blink the eyelids, a fluid coming out of one gland of the eye goes over the round and keeps the eyes liquid. Close your eyes and stand facing the sun. Open the eyes for one second by turning the head right-left for a while, but do not look towards the sun, around it ……

“उन सभी कारणों को भूल जाएं कि कोई कार्य नहीं होगा। आपको केवल एक अच्छा कारण खोजना है कि यह कार्य सफल होगा।” डा. राबर्ट
“Forget about all the reasons why something may not work. You only need to find one good reason why it will.” Dr. Robert

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment