बज्जुर है छाती किसान की : हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – कृषि | Bajjur Hai Chati Kisan Ki : Hindi PDF Book – Agriculture ( Krishi )

बज्जुर है छाती किसान की : हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - कृषि | Bajjur Hai Chati Kisan Ki : Hindi PDF Book - Agriculture ( Krishi )
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name बज्जुर है छाती किसान की / Bajjur Hai Chati Kisan Ki
Author
Category
Language
Pages 156
Quality Good
Size 8.6 MB
Download Status Available

बज्जुर है छाती किसान की का संछिप्त विवरण : किसान हमारे देश का विभूति है | यही आदि-मानव हमारी सभ्यता और संस्कृति का मेरुदंड है | इसके श्रम से आज हम जीवित है | राष्ट्रिय चेतना का प्रतिक किसान है | इसकी भुजाओ में जो बल है, जो उत्साह है वही विश्व को विपत्तियों से बचा रही है | देश भक्ति का अर्थ है देश की मिट्टी से मोह………

Bajjur Hai Chati Kisan Ki PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Kisan hamare desh ka vibhuti hai. Yahi aadi-manav hamari sabhyata aur sanskrti ka merudand hai. Iske shram se aaj ham jeevit hai. Rashtriy chetna ka pratik kisan hai. Iski bhujao mein jo bal hai, jo utsah hai vahi vishv ko vipattiyon se bacha rahi hai. Desh bhakti ka arth hai desh ki mitti se moh…………
Short Description of Bajjur Hai Chati Kisan Ki PDF Book : Farmer is our country’s vesture. This is the ad-human spinal cord of our civilization and culture. From its labor today we are alive. The symbol of national consciousness is a farmer. The force which is in its bosom, which is the excitement, is saving the world from adversities. Country devotion means love of the soil of the country………
“जन्म देने वाले माता पिता से अध्यापक कहीं अधिक सम्मान के पात्र हैं, क्योंकि माता पिता तो केवल जन्म देते हैं, लेकिन अध्यापक उन्हें शिक्षित बनाते हैं, माता पिता तो केवल जीवन प्रदान करते हैं, जबकि अध्यापक उनके लिए बेहतर जीवन को सुनिश्चित करते हैं।” ‐ अरस्तू
“Teachers, who educate children, deserve more honour than parents, who merely gave them birth; for the latter provided mere life, while the former ensure a good life.” ‐ Aristotle

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment