भयंकर – भूत : श्रीयुत पं० सरयू प्रसाद जी शर्म्मा द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – नाटक | Bhayankar – Bhoot : by Shriyut Pt. Saryuprasad Ji Sharmma Hindi PDF Book – Drama (Natak)

भयंकर - भूत : श्रीयुत पं० सरयू प्रसाद जी शर्म्मा द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - नाटक | Bhayankar - Bhoot : by Shriyut Pt. Saryuprasad Ji Sharmma Hindi PDF Book - Drama (Natak)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name भयंकर – भूत / Bhayankar – Bhoot
Author
Category, , ,
Language
Pages 184
Quality Good
Size 3 MB
Download Status Available

भयंकर – भूत का संछिप्त विवरण : मुझे आश्चर्य हैं कि इसके रचयिता शर्माजी ने, हमसे पृथक होते ही “उर्दूबीवी”से क्यो’ नाता जोड़ लिया ? जान पड़ता है कि, उर्दू की थियेद्रिकल कम्पनियों मे रहने के कारण ‘उर्दूबीबी’ से प्रेम करने का “नया भूत” सवार हो गया है | अच्छी बात है, वो इसका दण्ड भी यही है कि शीघ्राति शीघ्र शुद्ध हिन्दी भाषा मेँ…….

Bhayankar – Bhoot PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Mujhe Aashchary hain ki iske Rachayita Sharmaji ne, hamase prthak hote hi “Urdoobivi”se k‍yo Nata jod liya ? Jan padata hai ki, urdu ki thiyedrikal Compniyon me rahane ke karan urdoobibi se prem karne ka “Naya bhoot” Savar ho gaya hai. Achchhi bat hai, vo iska dand bhi yahi hai ki sheeghrati sheeghra shuddh hindi bhasha mein……..
Short Description of Bhayankar – Bhoot PDF Book : I wonder why its author Sharmaji joined “Urdubibi” as soon as he separated from us? It is a good thing, that its punishment is also that as soon as possible in pure Hindi language……..
“मुझे इस बात का अफसोस नहीं कि आपने मुझसे झूठ बोला, मुझे तो इस बात का अफसोस है कि मैं आप पर अब विश्वास नहीं कर सकूंगा।” फ़्रेडरिख निट्ज़
“I’m not upset that you lied to me, I’m upset that from now on I can’t believe you.” Friedrich Nietzsche

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment