छोटे गधे ने मदद करना सीखी : हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – बच्चों की पुस्तक | Chhote Gadhe Ne Madad Karana Seekhi : Hindi PDF Book – Children’s Book (Bachchon Ki Pustak)

Book Nameछोटे गधे ने मदद करना सीखी / Chhote Gadhe Ne Madad Karana Seekhi
Author
Category, ,
Language
Pages 12
Quality Good
Size 915 KB
Download Status Available

छोटे गधे ने मदद करना सीखी का संछिप्त विवरण : छोटा गधा एक दोस्ताना किस्म का जानवर था। उसे दिन भर खेतों में खेलना, तितलियों का पीछा करना और धूप में देर तक झपकी लेना पसंद था। वो एक बहुत ही खुशमिजाज गधा था। उसने हमेशा वही किया जिसने उस ख़ुश मिजाज गधा था। उसने हमेशा वही किया जिसने उसे खुश किया। यह बातें कभी-कभी उसके दोस्तों को परेशान भी करती थी ………..

Chhote Gadhe Ne Madad Karana Seekhi PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Chhota Gadha ek Dostana kism ka janavar tha.Use din bhar kheton mein khelana, titaliyon ka peechha karana aur dhoop mein der tak jhapaki lena pasand tha. vo ek bahut hee khushamijaj gadha tha. Usane hamesha vahi kiya jisane us khush mijaj gadha tha. Usane hamesha vahi kiya jisane use khush kiya. Yah baten kabhi-kabhi usake doston ko pareshaan bhee karati thi…………
Short Description of Chhote Gadhe Ne Madad Karana Seekhi PDF Book : The small donkey was a friendly animal. He enjoyed playing in the fields all day, chasing butterflies and taking long naps in the sun. He was a very happy ass. He always did the one who had that happy mood ass. He always did what made him happy. These things sometimes upset his friends……………….
“अपने डैनों के ही बल उड़ने वाला कोई भी परिंदा बहुत ऊंचा नहीं उड़ता।” – विलियम ब्लेक (१७५७-१८२७), अंग्रेज़ कवि व कलाकार
“No bird soars too high if he soars with his own wings.” – William Blake (1757-1827), British Poet and Artist

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment