गौमाता पंचगव्य चिकित्सा : राजीव दीक्षित द्वारा हिंदी पीडीऍफ पुस्तक | Gaumata Panchgavya Chikitsa : by Rajiv Dixit Hindi PDF Book

पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name गौमाता पंचगव्य चिकित्सा / Gaumata Panchgavya Chikitsa
Author
Category, , , ,
Language
Pages 130
Quality Good
Size 3.9 MB
Download Status Available

गौमाता पंचगव्य चिकित्सा का संछिप्त विवरण : भारत में देशी गाय की जितनी नस्‍्लें हैं इनके इतिहास में झाकें तो स्पष्ट होता है कि उनका आकार, दूध देने की क्षमता, बैलों द्वारा भार खींचने की क्षमता यह सब वहाँ की भौगोलिकता के अनुसार है| अतः यह कह पाना मुश्किल है किकौन सी नस्ल की गे श्रेष्ठ है| भारत में सभी प्रजातियों की गाय अपनी-अपनी भौगोलिकता में अपने-अपने स्थान पर श्रेष्ठ हैं…..

Gaumata Panchgavya Chikitsa PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Bharat mein deshi gaay kee jitanee naslen hain inake itihaas mein jhaaken to spasht hota hai ki unaka aakaar, doodh dene kee kshamata, bailon dvaara bhaar kheenchane kee kshamata yah sab vahaan kee bhaugolikata ke anusaar hai. atah yah kah paana mushkil hai kikaun see nasl kee ge shreshth hai. bhaarat mein sabhee prajaatiyon kee gaay apanee-apanee bhaugolikata mein apane-apane sthaan par shreshth hain…………
Short Description of Gaumata Panchgavya Chikitsa PDF Book : In India, as much as the breed of native cow is covered in its history, it is obvious that its size, ability to give milk, the ability to pull loads by oxen, all this is according to geography. So it is difficult to say which kind of race is best. In India, the cow of all species is superior in its own geography…………
“यदि आप किसी चीज का सपना देख सकते हैं, तो आप उसे प्राप्त कर सकते हैं।” ‐ वाल्ट डिज़नी
“If you can dream it, you can do it.” ‐ Walt Disney

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment