ग्रामीण हिन्दी : धीरेन्द्र वर्मा द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – साहित्य | Grameen Hindi : by Dheerendra Verma Hindi PDF Book – Literature (Sahitya)

ग्रामीण हिन्दी : धीरेन्द्र वर्मा द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - साहित्य | Grameen Hindi : by Dheerendra Verma Hindi PDF Book - Literature (Sahitya)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name ग्रामीण हिन्दी / Grameen Hindi
Author
Category, ,
Language
Pages 68
Quality Good
Size 27 MB
Download Status Available

ग्रामीण हिन्दी का संछिप्त विवरण : एक अंग्रेज बिदवान्‌ ग्रैहम बेली महोदय ने उर्दू की उत्पत्ति के सम्बन्ध में एक नय विचार रक्‍्खा है | उनकी समझ उर्दू की उत्पत्ति दिल्‍ली में खड़ीबोली के आधार पर नहीं हुई बल्कि इससे पहले ही पंजाबी के आधार पर यह लाहौर के आस-पास थी और दिल्‍ली में आने पर मुसलमान शासक इसे अपने साथ ही लाये थे……..

Grameen Hindi PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Ek Angrej vidvan Graiham beli Mahoday ne urdoo ki utpatti ke sambandh mein ek nay vichar rakkha hai. Unaki samajh urdoo kee utpatti dillee mein khadeebolee ke aadhaar par nahin huee balki isase pahale hee panjaabee ke aadhaar par yah laahaur ke aas-paas  thee aur dillee mein aane par musalamaan shaasak ise apane saath hee laaye the………….
Short Description of Grameen Hindi PDF Book : An English thinker, Graham Belly Sir, has a new idea in relation to the origin of Urdu. His understanding did not originate in Urdu on the basis of Khariboli in Delhi, but earlier it was around Lahore and on arrival in Delhi, the Muslim ruler brought it with him…………..
“शिक्षा सर्वोत्तम मित्र है। शिक्षित व्यक्ति का सभी जगह आदर होता है। शिक्षा सुंदरता और यौवन को भी मात देती है।” ‐ चाणक्य
“Education is the best friend. An educated person is respected everywhere. Education beats the beauty and the youth.” ‐ Chanakya

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment