हाथ की उँगलियाँ : सुरेश चन्द्र श्रीवास्तव द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – सामाजिक | Hath Ki Ungaliyan : by Suresh Chandra Shrivastav Hindi PDF Book – Social (Samajik)

हाथ की उँगलियाँ : सुरेश चन्द्र श्रीवास्तव द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - सामाजिक | Hath Ki Ungaliyan : by Suresh Chandra Shrivastav Hindi PDF Book - Social (Samajik)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name हाथ की उँगलियाँ / Hath Ki Ungaliyan
Author
Category, , , , , , ,
Language
Pages 85
Quality Good
Size 1.7
Download Status Available

पुस्तक का विवरण : ” एक ऐसे व्यक्तित्व पुरुष भी है और नारी भी। जो हिन्द्र भी है, ईसाई भी और मुसलमान भी। जो हिन्द्रस्तानी भी है और पाकिस्तानी भी – एशियन भी है, यूरोपियन भी है, अमरीकन भी है, ऑस्ट्रलियन भी है और अफ्रीकन भी। जो गरीब भी है और आमिर भी। जो कला भी है और गोरा भी। जो सवर्ण भी और दलित भी…….

Pustak Ka Vivaran : Ek Aise Vyaktitv purush bhee hai aur Nari bhee. Jo Hindu bhi hai, Esai bhee aur musalaman bhee. Jo Hindustani bhee hai aur pakistanee bhee – Eshiyan bhee hai, Europiyan bhee hai, amaican bhee hai, Australiyan bhee hai aur African bhee. Jo Gareeb bhee hai aur aamir bhee. Jo kala bhee hai aur gora bhee. Jo savarn bhee aur dalit bhee…………

Description about eBook : “Such a personality is both male and female. Which is also Hindu, Christian as well as Muslim. Which is also Indian and Pakistani – also Asian, European, American, Australian and African. One who is poor as well as Aamir. Which is art as well as fair. Which also upper caste and dalit………..

“ज़िंदगी तो कुल एक पीढ़ी भर की होती है, पर नेक काम पीढ़ी दर पीढ़ी चलता है।” जापानी कहावत
“Life is for one generation; a good name is forever.” Japanese Proverb

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment