जड़ की बात : श्री जैनेंद्र कुमार द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – सामाजिक | Jad Ki Bat : by Shri Jainedra Kumar Hindi PDF Book – Social (Samajik)

जड़ की बात : श्री जैनेंद्र कुमार द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - सामाजिक | Jad Ki Bat : by Shri Jainedra Kumar Hindi PDF Book - Social (Samajik)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Author
Category, , ,
Language
पुस्तक का डाउनलोड लिंक नीचे हरी पट्टी पर दिया गया है|
“हमारी महानतम विशालता कभी भी न गिरने में नहीं अपितु हर बार गिरने पर फिर उठने में निहित होती है।” ‐ कंफ्यूशियस
“Our greatest glory consists not in never falling, but in rising every time we fall.” ‐ Confucius

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

जड़ की बात : श्री जैनेंद्र कुमार द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – सामाजिक | Jad Ki Bat : by Shri Jainedra Kumar Hindi PDF Book – Social (Samajik)

जड़ की बात : श्री जैनेंद्र कुमार द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - सामाजिक | Jad Ki Bat : by Shri Jainedra Kumar Hindi PDF Book - Social (Samajik)

  • Pustak Ka Naam / Name of Book : जड़ की बात / Jad Ki Bat Hindi Book in PDF
  • Pustak Ke Lekhak / Author of Book : श्री जैनेंद्र कुमार / Shri Jainedra Kumar
  • Pustak Ki Bhasha / Language of Book : हिंदी / Hindi
  • Pustak Ka Akar / Size of Ebook : 12 MB
  • Pustak Mein Kul Prashth / Total pages in ebook : 234
  • Pustak Download Sthiti / Ebook Downloading Status : Best

(Report this in comment if you are facing any issue in downloading / कृपया कमेंट के माध्यम से हमें पुस्तक के डाउनलोड ना होने की स्थिति से अवगत कराते रहें )

जड़ की बात : श्री जैनेंद्र कुमार द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - सामाजिक | Jad Ki Bat : by Shri Jainedra Kumar Hindi PDF Book - Social (Samajik)

Pustak Ka Vivaran : Jad ki bat shabd se chaukanevaki jarurat nahin. Aakhir shri Jainendr kya jad kee bat kahana chahate hai. Jo kuchh bhoo unhonne kaha hai, vah jad yani mool roop par chot to gahari mar jata hai aur phal jo hai vah kaduya bhee nahin, meetha bhee nahin-mahaj seedha-sada tatv roop rah jata hai aur yahee moti-si bat shri Jainendra kee jad ki bat ka parichay…………

अन्य सामाजिक पुस्तकों के लिए यहाँ दबाइए- “सामाजिक हिंदी पुस्तक

Description about eBook : No need to be shocked by the word ‘root talk’. After all, what does Mr. Jainendra want to say ‘Joot Ki Baat’. Whatever the ground he has said, the root, that is the root, is deeply hit and the fruit which is not even bitter, not sweet – remains just a simple elemental form and this is the thick thing of Mr. Jainendra. Introduction to ‘root talk’………………

To read other Social books click here- “Social Hindi Books

 

सभी हिंदी पुस्तकें ( Free Hindi Books ) यहाँ देखें

 

श्रेणियो अनुसार हिंदी पुस्तके यहाँ देखें

 

“जब प्रेम और कौशल एक साथ काम कर रहे हों तो एक उत्कृष्ट कृति की उम्मीद रखें।”

‐ सी. रीड

——————————–

“When love and skill work together, expect a masterpiece.”

‐ C. Reade

Connect with us on Facebook and Instagram – सोशल मीडिया पर हमसे जुड़ने के लिए हमारे पेज लाइक करें. लिंक नीचे दिए है

Leave a Comment